चेन्नई: तमिलनाडू की राजधानी चेन्नई में रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के एक कॉन्स्टेबल की बहादुरी की वजह से एक महिला की इज्जत तार तार होने से बच गई. आरपीएफ के जवान ने महिला को बचाकर बहादुरी की मिसाल पेश की. घटना सोमवार रात की है जब चिंताद्रीपेट और पार्क स्टेशन के बीच चलती ट्रेन में एक 26 वर्षीय युवक एक महिला का बलात्कार करने की कोशिश कर रहा था. ये देखकर आरपीएफ के जवान ने चलती ट्रेन से छलांग लगाकर दूसरी बोगी में बैठी महिला को बचा लिया. जवान का नाम के. शिवाजी बताया जा रहा है. पीड़ित महिला वेलाचेरी से बीच रोड़ जा रही थी और वो उस लाइन पर चलने वाली आखिरी ट्रेन में सफर कर रही थी.Also Read - 21 साल की कॉलेज छात्रा से 15 साल के लड़के ने रेप की कोशिश की, सिर पर पत्थर मार कर हाथपैर बांधे और...

पुलिस के अनुसार, ‘जब ट्रेन चिंताद्रीपेट स्टेशन से खुली, तो के.शिवाजी को एक औरत के चीखने की आवाज सुनाई दी जो कि बगल वाले डिब्बे से आ रही थी. दोनों कंपार्टमेंट के बीच कोई गलियारा नहीं था इसलिए वह अगले कम्पार्टमेंट में नहीं जा सकता था. ऐसे में जैसे ही ट्रेन पार्क स्टेशन पहुंची, शिवाजी ने छलांग लगाई और अगले कम्पार्टमेंट में पहुंच गया.” Also Read - बहु पर ऐसी बिगड़ी ससुर की नीयत, परेशान बेटे को करनी पड़ी सुसाइड, फिर भी...

वहां उन्होंने देखा कि एक महिला के साथ व्यक्ति बलात्कार करने की कोशिश कर रहा है. आरपीएफ जवान ने उस व्यक्ति को धक्का देकर पीछे कर दिया और महिला को बचाया. महिला को कुछ चोटें भी आईं, उसे इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया गया. आरोपी व्यक्ति की पहचान सत्यराज के रूप में हुई है, जो कि दक्षिण चेन्नई के मेट्रो शहर तमिलनाडु के वेलाचेरी का निवासी है. आगे की कार्रवाई के लिए उसे रेलवे पुलिस के हवाले कर दिया गया. Also Read - केबिन में मरीज लड़की के आते ही डॉक्टर करता था घिनौना काम, बाहर बैठे रहते थे मां-बाप, अब...