छतरपुर. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख डॉ. मोहन भागवत ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए वर्तमान समय को अनूकूल बताते हुए कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करना हमारा संकल्प है. जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर मऊसहानियां में महाराजा छत्रसाल की 52 फुट ऊंची प्रतिमा के अनावरण समारोह में आरएसएस प्रमुख भागवत ने कहा, ‘राम मंदिर का निर्माण (अयोध्या में) केवल एक इच्छा नहीं है, यह हमारा संकल्प है.’Also Read - RSS चीफ मोहन भागवत ने कहा- हिन्दू धर्म छोड़ने वालों की घर वापसी कराएंगे, लोगों को जोड़ेंगे

Also Read - हिंदुओं को लगा कि कानूनी प्रक्रिया के जरिए उन्हें धोखा दिया जा रहा है, जिसके कारण बाबरी मस्जिद गिराई गई : RSS नेता

संघ प्रमुख ने वर्तमन समय को राम मंदिर निर्माण के लिए अनुकूल बताते हुए कहा कि जो लोग राम मंदिर का निर्माण करना चाहते हैं उन्हें भगवान राम के पद चिन्हों पर चलना चाहिए. Also Read - VHP प्रमुख ने कहा- राम जन्मभूमि को वेटिकन सिटी और मक्का की तरह विकसित किया जाएगा

भागवत ने कहा कि महाराज छत्रसाल एक बहादूर योद्धा थे तथा कुछ साथियों के साथ ही वह दुश्मन को पराजित कर देते थे. उन्होंने इस अवसर पर महाराजा छत्रसाल और छत्रपति शिवाजी के संबंध को भी याद किया.

बता दें कि छत्रसाल मध्ययुगीन भारतीय योद्धा थे, जिन्होंने मुगल सम्राट औरंगजेब के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी और बुंदेलखंड में अपना राज्य स्थापित किया था. वह पन्ना राज्य के संस्थापक थे.