बलिया: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता इन्द्रेश कुमार ने गुरुवार को मुस्लिम विचारकों के एक कथित निर्णय का हवाला देते हुए दावा किया कि बाबर के नाम पर अयोध्या और फैजाबाद में ही नहीं, देश और दुनिया में कहीं भी कोई मस्जिद नहीं बनेगी. इन्द्रेश ने एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए दावा किया कि पिछले दिनों लखनऊ में मुस्लिम समाज के विचारकों की एक बैठक हुई थी, जिसमें तकरीबन 150 लोगों ने हिस्सा लिया था. इस बैठक में चार बिंदुओं पर सहमति बनी थी. इसमें तय हुआ था कि राम जन्म भूमि पर मंदिर ही बनेगा. साथ ही यह भी तय हुआ था कि बाबर के नाम पर अयोध्या, फैजाबाद, उत्तर प्रदेश या देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी मस्जिद नहीं बनेगी. Also Read - अगर बाबरी मस्जिद को ध्वस्त नहीं किया गया तो हमने राम मंदिर के लिए कोई भूमि पूजन नहीं देखा होता: शिवसेना

उन्होंने कहा कि बैठक में यह भी फैसला किया गया कि मस्जिद के लिए सरकार अगर भूमि उपलब्ध कराती है तो अयोध्या और फैजाबाद से बाहर ही मस्जिद बनेगी. उस मस्जिद में बुनियादी तालीम और रोजगार की व्यवस्था होगी. मुस्लिम विचारकों के इन फैसलों पर देश में जल्द ही बहस शुरू होगी. Also Read - आखिर मथुरा में कृष्ण जन्मस्थली को लेकर क्यों उठा है विवाद, जानिए इसके पीछे की पूरी कहानी..

इन्द्रेश ने कहा कि राम मंदिर मुद्दे पर आम सहमति बनाने के लिए श्रीश्री रविशंकर सहित कई लोग प्रयास कर रहे हैं और सभी चाहते हैं कि अयोध्या में मुसलमानों का महासम्मलेन बुलाया जाए. अब यह तय हो गया है कि मंदिर के पक्ष में निर्णय आने के बाद देश में कोई भी भड़काने वाला व्यक्ति कामयाब नहीं होगा. अयोध्या में पूर्ण शान्ति से मंदिर का निर्माण होगा. Also Read - Babri Verdict: फैसले के बाद लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी का आया रिएक्शन, कही यह बात...

संघ नेता ने मौलानाओं के फतवों पर टिप्पणी करते हुए कहा कि बैंकिंग, ब्यूटीपार्लर सहित कई मसलों पर फतवे जारी करने वाले मौलाना निरन्तर अपनी साख खोते जा रहे हैं. कुरान के मुताबिक फतवा सिर्फ सलाह होता है ना कि आदेश. कुरान के जरिये फतवा देने की किसी मौलाना की हैसियत नहीं है.

उन्होंने कहा कि जिस मौलाना ने ब्यूटीपार्लर के खिलाफ फतवा जारी किया था, उसकी नातिन खुद देवबंद में ब्यूटीपार्लर चलाती है. देश के कुल ब्यूटीपार्लर में से 30 प्रतिशत पार्लर मुस्लिम महिलाएं चलाती हैं.

इन्द्रेश ने कहा कि हिन्दुस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश और पड़ोसी देश के मुसलमान विदेशी नहीं बल्कि रामलाल और श्यामलाल की संतान हैं. कार्यक्रम में इन्द्रेश ने भाजपा सांसद भरत सिंह सहित पार्टी नेताओं को 108 बार रामजाप कराया.