लखनऊ,28 अगस्त: आरएसएस प्रचारक और राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के संयोजक इंद्रेश कुमार ने अयोध्या आंदोलन के कारसेवकों से जुड़े मुलायम सिंह के दिए बयान के बाद उन्हें आड़े हाथों लिया। इंद्रेश कुमार ने मुलायम को खूंखार अपराधी और हत्यारा तक कह डाला। इंद्रेश कुमार भाषा की सीमा तक लांघ गए और कहा कि अगर वो जिंदा रहेगा तो और भी हत्याएं करा सकता है। संघ के नेता इंद्रेश कुमार ने कहा कि राजनीति और कुर्सी के लिए मुलायम सिंह मुसलमानों की भी हत्या करा सकता है। इंद्रेश ने अदालत और मानवाधिकार आयोग से मुलायम सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की अपील की है। Also Read - लॉकडाउन: महिला सब-इंस्‍पेक्‍टर ने मजदूर के साथ किया कुछ ऐसा, एसपी ने किया लाइन अटैच

जानें ऐसा क्या बयान दिया था मुलायम ने- Also Read - लॉकडाउन में RSS ने मदद के लिए बढ़ाए हाथ, शिविर लगाकर लोगों में बांटे राहत सामग्री

समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव लखनऊ में अपने जीवन संघर्ष पर आधारित किताब के विमोचन समारोह के दौरान अयोध्या में कारसेवकों पर गोली चलवाने को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि इस गोलीकांड में 16 लोग मारे गए थे लेकिन एकता के लिए जरूरत पड़ती तो 30 लोगों की भी जान जाने से उन्हें कोई गम न होता। मुलायम ने कहा कि गोलीकांड की वजह से ही देश की एकता बच पायी है। यह भी पढ़ें: मुलायम बोले- बाबरी विध्वंस के दौरान कारसेवकों पर फायरिंग करवाने का दुख है Also Read - मध्‍य प्रदेश विधानसभा में शिवराज सिंह चौहान ने विपक्ष की गैरमौजूदगी में विश्‍वास मत हासिल किया

इंद्रेश कुमार ने कहा, ‘मुलायम सिंह ने इस बात को स्वीकार कर लिया है कि वह एक बहुत बड़ा हत्यारा है। उसने प्रदेश के सर्वोच्च पद पर बैठ कर निर्दोष रामभक्तों की हत्या करने का काम किया है। साथ ही वो कह रहा है कि जरुरत पड़ती तो और गोली चलवाकर और भी अधिक लोगों को मार सकता था। उसने अपना जुर्म कबुल कर लिया है।

इंद्रेश ने कहा कि मैं प्रदेश सरकार से, प्रदेश के मानवाधिकार आयोग से, प्रदेश के हाई कोर्ट से ये अपील करूंगा, साथ ही भारत सरकार से, भारत के मानवाधिकार आयोग से और सर्वोच्च न्यायालय से भी ये अपील करूंगा कि ऐसे खूंखार अपराधी के खिलाफ नोटिस दें और मुकदमा दर्ज करें।

यदि हत्यारा जिंदा रहेगा और वो कहता रहेगा कि वो और भी हत्या करा सकता है, तो देश के अंदर सुशासन और विकास के बजाय अराजकता, हिंसा और गुंडागर्दी पनपेगी। लोकतंत्र में ऐसे हत्यारों को कैसे सबक सिखाना है ये देश की जनता तय करेगी।

ये सीरियस बात है कि एक हत्यारा खुलेआम घूमता रहे और उसके खिलाफ मानवाधिकार आयोग, सुप्रीम कोर्ट, हाई कोर्ट संज्ञान न ले। इन सब से मेरी प्रार्थना है कि इस बयान का सीरियसली संज्ञान लें।

इंद्रेश कुमार ने कहा, जरूरत पड़ने पर मुसलमानों की हत्या करवा सकते हैं मुलायम-
उन्होंने कहा कि मुसलमानों को भी ये समझना चाहिए कि जो अपनी जाति का, अपने इष्ट का नहीं है, वो उनका कब हो सकेगा। इसका मतलब मुलायम यादव न देश का है, न धर्म का है और न जाति का है। वो किसी का नहीं है वो केवल अपनी तुच्छ राजनीति का और कुर्सी का है। कल उसे लगेगा तो वो शायद मुसलमानों की हत्या करने की साजिश कर सकता है।

इसलिए देश की जनता को मैं कहूंगा कि ऐसे हत्यारों की साजिश से वो सावधान रहें। जागरूक रहें, अगर उसने गलत निर्णय कर लिया तो परिणाम उत्तर प्रदेश के लिए अच्छे नही होंगे। इसलिए मैं ऐसी तुच्छ राजनीति करने वालों के प्रति प्रदेश और देश की जनता को सावधान करता हूं।

नेता और दल ऐसा चाहिए जो सबको साथ लेकर सबका विकास करे, जो सबकी हित की बात करे, जो हत्याओं की, नफरत की और बर्बादी की राजनीति न करे। जो विकास की, शिक्षा की और भाईचारे की राजनीति करे। तभी वो नेता और दल चलेंगे। वो नेता और दल हिंदुस्तान में नही चलने चाहिए, जो बर्बादी की, हिंसा की और लड़वाने की राजनीति करे।