हाजीपुर: बिहार के वैशाली जिले के गोरौल थाना क्षेत्र में बुधवार को दिनदहाड़े एक आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई. हत्या करने के बाद बाद हमलावर फरार हो गए. इस घटना में एक अन्य व्यक्ति भी गोली लगने से घायल हो गया. फिलहाल हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है. पुलिस के अनुसार, इनायतनगर पंचायत समिति सदस्य सावित्री देवी के पुत्र और आरटीआई कार्यकर्ता जयंत कुमार उर्फ हैप्पी इनायत नगर में ही एक चाय की दुकान के पास खड़े होकर बात कर रहे थे. इसी दौरान कुछ लोगों ने उन पर गोली चला दी. Also Read - यूपी: शादी के बाद पत्‍नी ने धर्म परिवर्तन से किया इनकार, तो पति ने गला काटकर कर दी हत्‍या

ये भी पढ़ें: HRD मिनिस्ट्री ने सीबीएसई परीक्षा प्रक्रिया जांच के लिए गठित की समिति Also Read - लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र नेता की गोली मारकर हत्या, आरोपी गिरफ्तार

Also Read - जिस स्कूल गर्ल की हुई 'हत्या', वो 3 बच्चों की माँ बनकर लौटी, पुलिस-CBI भी दंग

गोली लगने से हैप्पी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि वहीं खड़े उप मुखिया के पति अरविंद सिंह भी गोली लगने से घायल हो गए. घायल अरविंद को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. ग्रामीणों का कहना है कि सक्रिय आरटीआई कार्यकर्ता हैप्पी ने कई सफेदपोशों के खिलाफ अभियान छेड़ रखा था. उन्होंने जिले के कई राजनेताओं और पुलिसवालों के खिलाफ सूचना के अधिकार के माध्यम से बड़ी जानकारी हासिल की थी जिसके कारण वह चर्चा में थे और कई लोग उनके खिलाफ हो गए थे.

ये भी पढ़ें: बिहार के पूर्व मंत्री की मांग, अनुसूचित जाति और जनजातियों के लिए हो हरिजिस्‍तान

महुआ के पुलिस उपाधीक्षक अनंत कुमार ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. हत्या के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है.