नई दिल्ली: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को चीनी विदेश मंत्री वांग यी और यूरोपीय संघ के विदेश मामलों और सुरक्षा नीति पर उच्च प्रतिनिधि जोसेप बोरेल फोंटेलिस के साथ कोरोना वायरस महामारी पर सहयोग के बारे में चर्चा की. मंत्री ने भारत से यूरोपीय संघ के नागरिकों की वापसी में भारत के ‘‘पूर्ण समर्थन’’ का फोंटेलिस को आश्वासन दिया. Also Read - कोरोना के कारण मजदूरों का पलायन: कोर्ट ने तलब की रिपोर्ट, डर दहशत को बताया वायरस से भी बड़ी समस्या

जयशंकर ने ट्वीट किया, ‘‘चीन के स्टेट काउंसलर एवं विदेश मंत्री वांग यी के साथ कोविड-19 का मुकाबला करने में साथ काम करने पर चर्चा हुई. इस क्षेत्र में हमारे द्विपक्षीय प्रयासों को आगे बढ़ाने पर सहमति बनी. आगामी जी-20 शिखर सम्मेलन के मद्देनजर विचारों का आदान-प्रदान हुआ. वैश्विक चुनौतियों से मुकाबले के लिए वैश्विक सहयोग की आवश्यकता है.’’ Also Read - Covid-19: निजामुद्दीन के मरकज में सैंकड़ों कोरोना संदिग्ध, दिल्ली सरकार ने दिया मौलाना पर FIR दर्ज करने का आदेश

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘आज यूरोपीय संघ एचआरवीपी जोसेफ बोरेल फोंटेलिस के साथ कोविड-19 स्थिति की समीक्षा की. हमारी परस्पर चुनौतियों पर विचार किया. भारत से यूरोपीय संघ के नागरिकों की वापसी में हमारे पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया.’’ Also Read - COVID-19 से दुनिया में मौतों का आंकड़ा 34,610, संक्रमण के 7 लाख 27 हजार से ज्‍यादा केस

देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 500 पार कर गई जबकि मंगलवार को इससे एक और व्यक्ति की मौत होने की जानकारी सामने आयी जिससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 10 हो गई.

चीन के विदेश मंत्री ने कहा कि चीन को विश्वास है कि भारत कोविड-19 के खिलाफ जंग जीत लेगा. भारत में चीन के राजदूत सुन विदोंग ने ट्वीट किया कि जयशंकर के साथ चर्चा के दौरान विदेश मंत्री यी ने भारत के प्रति एकजुटता और सहानुभूति प्रकट की.