चंडीगढ़. विपक्षी शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने अमृतसर में दशहरा कार्यक्रम के दौरान हुए ट्रेन हादसे के सिलसिले में पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को तत्काल बर्खास्त करने और इस घटना की परिस्थितियों की न्यायिक जांच की मांग की.

शिअद की कोर समिति की बैठक के दौरान पार्टी प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने इस संबंधित दशहरा कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू और कार्यक्रम के आयोजकों को इस घटना के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए उनके खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की भी मांग की.

मजिस्ट्रेट जांच के आदेश को खारिज किया
पार्टी की एक विज्ञप्ति के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की अध्यक्षता में यहां पार्टी की कोर समिति ने अपनी बैठक में राज्य की कांग्रेस सरकार द्वारा दिये गये इस घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश को खारिज कर दिया और पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश द्वारा न्यायिक जांच कराने की मांग की. पार्टी ने आयोजकों पर ‘आपराधिक लापरवाही’ का आरोप लगाया.