Jammu and kashmir उत्तरी कश्मीर के सोपोर में शनिवार को हुए हमले को अंजाम देने वाले उग्रवादियों पर निशाना साधते हुए पीपुल्स कांफ्रेंस के प्रमुख सज्जाद लोन ने कहा कि बंदूक उन लोगों को गुलाम बनाती है, जिनके लिए वह लड़ना चाहती है. सज्जाद लोन ने घटना के बाद कई ट्वीट किए. उन्होंने कहा कि यह पागलपन कब खत्म होगा और बंदूकधारियों से यह सोचने को कहा कि वे किसकी लड़ाई लड़ रहे हैं.Also Read - Jammu & Kashmir: किश्तवाड़ में बादल फटने से 40 से अधिक लोग लापता, 4 लोगों की हुई मौत

लोन ने ट्वीट कर कहा, “सोपोर हमले में पांच लोगों की मौत हो गई, 3 नागरिक और 2 पुलिसकर्मी. श्रीमान बंदूकधारी, लगभग 5 कश्मीरी अंत्येष्टि, 5 विधवाएं, 10 शोकग्रस्त बूढ़े माता-पिता. एक दर्जन या अधिक अनाथ. सभी कश्मीरी. इसलिए श्रीमान बंदूकधारी, वास्तव में जानना चाहता हूं कि तुम किसकी तरफ हो.” Also Read - प्रधानमंत्री मोदी के साथ बैठक के बाद ‘आगे कोई नतीजा’ नहीं निकला: फारुख अब्दुल्ला

उन्होंने आगे कहा, “यह पागलपन कब खत्म होगा? गन 1989 में कश्मीर में आया था, 32 साल बाद, मैं स्पष्ट रूप से कह सकता हूं कि बंदूक उन्हीं लोगों को गुलाम बनाती है जिनके लिए वह लड़ने का इरादा रखता है. बंदूकधारियों को वास्तव में यह सोचने की जरूरत है कि वे किसकी लड़ाई लड़ रहे हैं.” Also Read - Kulgam Encounter Update: कुलगाम में मुठभेड़ में एक आतंकवादी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

शनिवार को सोपोर में एक पुलिस दल पर आतंकवादियों की अंधाधुंध गोलीबारी में दो नागरिक और जम्मू-कश्मीर के दो पुलिसकर्मी शहीद हो गये. पुलिस ने कहा कि हमले के पीछे लश्कर का हाथ है.