बलिया (यूपी): उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने गुरुवार को कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को हिन्दुस्तान में मिलाने के लिए ताल ठोंक रही भाजपा सरकार में यदि दम है तो वह कैलाश पर्वत और मानसरोवर को चीन से छीनकर हिन्दुस्तान में मिलाए. Also Read - Army Day 2021: आर्मी चीफ का चीन को स्पष्ट संदेश, कहा- भारतीय सेना के धैर्य की परीक्षा न ले कोई देश, हम...

सपा नेता चौधरी ने यहां संवाददाताओं से कहा कि भाजपा सरकार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को हिन्दुस्तान में मिलाने की बात कर रही है. अगर भाजपा सरकार में वाकई दम है तो वह हिन्दुओं के आदि देव महादेव की तपस्थली कैलाश पर्वत और मानसरोवर को चीन से छीनकर हिन्दुस्तान में मिलाकर दिखाए. उन्होंने यह टिप्पणी विदेश मंत्री एस. जयशंकर के 17 सितम्बर को दिल्ली में प्रेस को दिये उस बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए दी, जिसमें उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर भी भारत का है और एक दिन वह भी हिन्दुस्तान के कब्जे में होगा. Also Read - चीन को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का करारा जवाब, बोले- 'अगर कोई महाशक्ति हमारे सम्मान को ठेस पहुंचाएगी तो...'

विदेश मंत्री का बड़ा बयान, ‘पीओके भारत का हिस्सा, उम्मीद है एक दिन हमारे नियंत्रण में होगा’ Also Read - Jammu Kashmir: श्रीनगर में टूटा पिछले 30 साल का रिकॉर्ड, जम गई डल झील

चौधरी ने एक सवाल पर कहा कि भाजपा सरकार नया मोटर अधिनियम लागू कर गरीबों से ‘जजिया’ कर वसूलने में औरंगजेब और अंग्रेजों से भी आगे बढ़कर काम कर रही है. उन्होंने दावा किया कि सरकार भीषण आर्थिक मंदी से हो रहे नुकसान को पूरा करने के लिये ऐसा कर रही है. देश में 16 उद्योगपति अपार सम्पत्ति के मालिक हैं, लेकिन उन पर एक पैसे का कर नहीं बढ़ाया गया. उन्होंने कहा कि सपा नये मोटर वाहन कानून, बिजली की बढ़ी दरों, भ्रष्टाचार तथा अवैध वसूली के विरोध में एक अक्टूबर को गांधी जयंती की पूर्व संध्या पर प्रदेश के सभी जिलों की तहसीलों पर धरना देगी.

नेता प्रतिपक्ष ने पार्टी विधायक शिवपाल सिंह यादव की विधानसभा सदस्यता समाप्त कराने की याचिका दाखिल किये जाने के बारे में पूछने पर बताया कि सपा चाहती थी कि वह पार्टी में लौट आयें. मगर ऐसा करने के बजाय उन्होंने अपने भतीजे अक्षय यादव के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ा. मजबूर होकर सपा ने उनकी सदस्यता खत्म करने की याचिका दी है.