लखनऊ: सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के सामने असहज स्थिति पैदा हो गई. अखिलेश यादव एक दिन पहले यूपी के जिला कन्नौज में थे. वह सपा के महिला सम्मलेन में बोले रहे थे. इस दौरान एक शख्स उनसे बेरोजगारी को लेकर सवाल पूछने लगा. इस पर अखिलेश ने उस युवक से पूछा कि तुम किसके आदमी हो? कहीं बीजेपी से तो नहीं जुड़े हो? इतना सुनते ही युवक ने भीड़ के बीच जय श्री राम के नारे लगाने शुरू कर दिए. इसके बाद यहां अफरातफरी मच गई. सपा कार्यकर्ताओं ने उसे पीटना शुरू कर दिया. पिटाई करते हुए युवक को बाहर निकाल दिया. वहीं, अखिलेश यादव ने ये दावा भी किया कि  “एक भाजपा नेता ने मुझे फोन और मैसेज करके जान से मारने की धमकी दी है. मेरी जान को खतरा है. धमकी का मैसेज मोबाइल में सेव है. एक-दो दिन में लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करूंगा.” Also Read - केजरीवाल ने लोगों को गीता पाठ करने की दी सलाह, कहा- गीता के 18 अध्याय की तरह लॉकडाउन के बचे हैं 18 दिन 

इसके बाद से आज अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की सुरक्षा को लेकर सपा विधायकों ने विधानसभा में सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के सामने जमकर हंगामा काटा है. उत्तर प्रदेश विधानसभा में आज विपक्षी समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव की सुरक्षा के मुद्दे को लेकर हंगामा मचाया, जिसके बाद सदन में प्रशनकाल नहीं हो सका. आज सोमवार को जैसे ही विधानसभा की कार्यवाही शुरू हुई विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी ने अखिलेश की सुरक्षा के मुद्दे को उठाया लेकिन जब विधानसभा अध्यक्ष ह्रदय नारायण दीक्षित ने इस पर विचार करने से इंकार कर दिया तो सपा सदस्य सदन में हंगामा करने लगे और प्रश्न काल को बाधित करने लगे. इस पर विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिये स्थगित कर दी. Also Read - केजरीवाल के विधायक पर दूसरी FIR दर्ज, योगी आदित्यनाथ पर की थी टिप्पणी

जब सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू हुई तो रामगोविंद चौधरी ने अखिलेश की सुरक्षा का मुद्दा फिर उठाया. विपक्ष के नेता को जवाब देते हुये संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा कि अखिलेश यादव को जेड प्लस सुरक्षा मिली है जिसके तहत 182 सुरक्षाकर्मी उनकी सुरक्षा में तैनात हैं. जिसमें एक अपर पुलिस अधीक्षक स्तर का अधिकारी, एक पुलिस उपाधीक्षक स्तर का अधिकारी, छह इंस्पेक्टर, 16 सब इंस्पेक्टर के अलावा अन्य पुलिस कर्मी तैनात है. इसके अलावा कोबरा कमांडो जवान भी उनकी सुरक्षा में लगे हैं. उन्होंने कहा कि सामान्यत: जेड प्लस सुरक्षा में 56 सुरक्षाकर्मी होते है लेकिन अखिलेश की सुरक्षा में 182 सुरक्षाकर्मी तैनात हैं. Also Read - पूर्व केंद्रीय मंत्री व सपा के दिग्गज नेता बेनी प्रसाद वर्मा का लखनऊ में निधन