नई दिल्ली: नवगठित लोकसभा के पहले सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को शपथ ग्रहण करने के दौरान सदन में उस वक्त जोरदार हंगामा हुआ जब उत्तर प्रदेश की संभल लोकसभा सीट से निर्वाचित सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने राष्ट्रीय गीत ‘वंदे मातरम’ को लेकर एक टिप्पणी की. इसके साथ ही भाजपा के कई सदस्यों ने उनके शपथ लेने के बाद ‘भारत माता की जय’, ‘जय श्रीराम’ और ‘वंदे मातरम्’ के नारे लगाए.

लोकसभा महासचिव ने जैसे ही बर्क का नाम पुकारा तो भाजपा के कुछ सदस्य ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाते सुने गए. शपथ लेने के बाद बर्क ने कहा, ‘‘भारत का संविधान जिंदाबाद.’’ बर्क ने वंदेमातरम को इस्लाम के खिलाफ बताया. उनकी इस टिप्पणी पर भाजपा के सदस्यों ने कड़ी आपत्ति जताई और कहा कि बर्क माफी मांगें.

पीठासीन अध्यक्ष ने कहा कि बर्क ने शपथ के अलावा जो कुछ भी कहा है वो रिकॉर्ड में नहीं जाएगा. हंगामे को शांत कराने के लिए पीठासीन अध्यक्ष के. सुरेश ने कहा कि शपथ लेने के अलावा सदस्य कोई नारा नहीं लगाएं और रिकॉर्ड में शपथ के अलावा कुछ नहीं जाएगा. इसके बाद शपथ लेने वाले भाजपा के कई सदस्यों ने ‘भारत माता की जय’ और ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाया. भाजपा के राजवीर सिंह और सतीश गौतम ने ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाए.

इसके बाद पश्चिम बंगाल से भाजपा के लगभग सभी सांसदों ने अपनी शपथ के साथ ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाया. इस दौरान भाजपा के अन्य सदस्यों ने भी ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाए. राज्य के तृणमूल कांग्रेस के कुछ सदस्यों ने शपथ लेते हुए ‘जय बांग्ला’ और ‘जय बंगाली’ के नारे लगाए तो भाजपा के सदस्य ‘जय श्री राम’ बोलते सुने गए.

तृणमूल की काकोली घोष दस्तीदार जब शपथ लेने आईं तो पश्चिम बंगाल के भाजपा के कुछ सदस्य ‘जय श्री राम’ के नारे लगाते सुने गए तो दस्तीदार ने भी कई बार ‘जय बंगाल’ का नारा लगाया. गोरखपुर से निर्वाचित हुए अभिनेता-गायक रवि किशन अपनी शपथ लेने के दौरान ‘पार्वती पतये हर हर महादेव’ का जयकार करते भी सुने गए. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का नाम शपथ लेने के लिए पुकारे जाने पर उत्तर प्रदेश के भाजपा के कुछ सदस्यों ने भी मेजें थपथपाईं. उत्तर प्रदेश के सलेमपुर से भाजपा सांसद रवीन्द्र ने शपथ लेने के बाद ‘जय योगी-जय मोदी’ बोला.

मेरठ लाया गया शहीद मेजर का पार्थिव शरीर, मां ने पूछा- ‘कहां गया मेरा शेर बेटा’