तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में एक अजीब घटना सामने आई है. शहर के एक प्रतिष्ठित क्लब ने 20 वर्ष की उम्र के आसपास की दो लड़कियों को अपने क्लब से निकाल दिया है. क्लब का कहना है कि इन लड़कियों की हरकतों से अन्य गेस्ट असहज महसूस कर रहे थे. इन लड़कियों के नाम रसिका गोपालकृष्णन और शिवांगी सिंह हैं.

गोपालकृष्णन ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि वह और उनकी दोस्त ने शनिवार रात में द स्लैट होटल्स (The Slate Hotels) बार जाने का फैसला किया. डांस करते वक्त चार-पांच लोग उन्हें लगातार घूर रहे थे… इससे वे दोनों बहुत असहज महसूस करने लगीं. जितना हम जानते हैं वहां हर कोई अपने हिसाब से मस्ती कर रहा था, हम भी ऐसा ही कर रहे थे, लेकिन उनकी नजरें हमारे ओर ही क्यों आकर्षित हुईं. इसे स्वीकार करना क्यों मुश्किल है कि समान सेक्स वाले दो लोग एक साथ डांस नहीं कर सकते. हमारे आसपास के लोग जिस तरह से हमारे बारे में गंदी-गंदी बातें कर रहे थे उससे वे डर गईं. इस बारे में न्यूज एजेंसी  आईएएनएस ने रिपोर्ट छापी है.

गोपालकृष्णन के मुताबिक इसके बाद वे दोनों वाशरूम गई थीं. तभी जोर-जोर से दरवाजा पीटने की आवाज आई. चार मेल बाउंसर और एक महिला बाउंसर वाशरूम में घुस आए. वे हमसे पूछने लगे कि हम दोनों एक साथ वाशरूम में क्या कर रहे थे. उन्होंने हमें बहुत भलाबुरा कहा. उन्होंने कहा कि क्लब के गेस्ट ने उनके बारे में कई शिकायतें की हैं. उन्होंने हमसे तुरंत क्लब से जाने को कहा. उन्होंने हमें होटल से बाहर कर दिया.

गोपालकृष्णन ने लिखा है कि होटल के स्टाफ का ऐसा गैरपेशेवर व्यवहार पूरी तरह से अस्वीकार्य है. गोपालकृष्णन की दोस्त सिंह ने भी एक फेसबुक पोस्ट लिखा. इसमें उन्होंने कहा कि होटल के मैनेजर ने इस बात पर जोर दिया कि हमारे व्यवहार से अन्य लोग असहज हो रहे थे. उनके मुताबिक होटल के मैनेजर ने दावा किया उनके पास उनका वीडियो फुटेज है. इस बारे में होटल की ओर से की प्रतिक्रिया नहीं आई है न ही लड़कियों की ओर से कोई शिकायत की गई है.