नई दिल्‍ली: सीनियर कांग्रेस नेता जर्नादन द्विवेदी के बेटे समीर द्विवेदी मंगलवार को बीजेपी में शामिल हो गए. उन्‍हें भाजपा कार्यालय में बीजेपी के सीनियर नेता अरुण सिंह की मौजूदगी में सदस्‍यता दिलाई गई. ये सियासी घटनाक्रम सामने आने के बाद जब कांग्रेस नेता जर्नादन द्विवेदी से पूछा गया तो उन्‍होंने कहा, मुझे इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है, अगर वह बीजेपी में शामिल हो रहा है तो यह उसका स्‍वतंत्र निर्णय है.Also Read - राजस्थान के खेल मंत्री अशोक चांदना ने CM गहलोत से 'जलालत भरे मंत्री पद' से मांगी मुक्ति, BJP ने कसा तंज

बता दें कि समीर द्विवेदी के पिता जनार्दन द्विवेदी कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता हैं और वह एक दशक तक पार्टी के महासचिव रहे हैं. कुछ समय पहले जनार्दन द्विवेदी एक धार्मिक कार्यक्रम में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के साथ मंच साझा कर चुके हैं. Also Read - महाराष्ट्र में BJP प्रदेश अध्यक्ष ने सांसद सुप्रिया सुले से कहा- ‘घर जाओ खाना पकाओ’, खफा हुईं महिला नेता

Also Read - योगी आदित्यनाथ पर की अभद्र टिप्पणी, आरोपी को 15 दिन गौशाला साफ करने की सजा

समीर द्विवेदी ने कहा, “ मैं पहली बार किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल हुआ हूं… मैने भाजपा को इसलिए चुना, क्योंकि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए कार्यों से बेहद प्रेरित था.”

बता दें कि जर्नादन द्विवेदी को लेकर माना जा रहा था कि उनके और कांग्रेस के सीनियर नेतृत्‍व के बीच मतभेद चल रहे थे. कांग्रेस में कभी प्रभावी भूमिका रखने वाले जर्नादन द्विवेदी मूलत: उत्‍तर प्रदेश के बांदा जिले से हैं, लेकिन उनका सियासी सफर संगठन में दिल्‍ली में ही रहा है. वह राज्‍यसभा सदस्‍य भी रहे हैं. पार्टी के प्रवक्‍ता व रणनीति और सोनिया गांधी के काफी करीबी लोगों में रहे हैं.