पटना: न्यायमूर्ति संजय करोल ने सोमवार को पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली. बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने राजभवन में आयोजित एक समारोह में उन्हें मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ दिलाई. इस शपथ ग्रहण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, उच्च न्ययायालय के कई न्यायाधीश सहित कई गणमान्य लोग मौजूद रहे.

करोल इसके पहले त्रिपुरा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश थे. पटना उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश का स्थानांतरण मद्रास उच्च न्यायालय किया गया है. त्रिपुरा हाई कोर्ट की वेबसाइट पर दिए गए जानकारी के अनुसार संजय करोल का जन्म 23 अगस्त 1961 को शिमला में हुआ था. शिमला के सेंट एडवर्ड स्कूल में उन्होंने अपनी पढाई की. और फिर शिमला के ही सरकारी कॉलेज से उन्होंने इतिहास में ऑनर्स के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की. करोल ने शिमला के एचपी यूनिवर्सिटी से कानून की उपाधि प्राप्त की और वर्ष 1986 में एक वकील के रूप में अपना पद संभाला.

महाराष्ट्र के सियासी रस्साकशी पर सीएम नीतीश कुमार ने कसा तंज, कही ये बड़ी बात…

उन्होंने संवैधानिक, कराधान, कॉर्पोरेट, आपराधिक और नागरिक मामलों में भारत के माननीय सर्वोच्च न्यायालय सहित विभिन्न न्यायालयों में अभ्यास किया. करोल ने साल 1998 से 2003 तक हिमाचल प्रदेश के महाधिवक्ता के रूप में संवैधानिक कर्तव्यों का निर्वहन किया.