मुंबई: एनसीपी नेता अजित पवार द्वारा इस्तीफा दिए जाने के बाद शिवसेना नेता संजय राउत का बयान आया है. संजय राउत ने बड़ा दावा किया कि अजित पवार हमारे साथ हैं. हमारे पास जादुई आंकड़ा है. फ्लोर टेस्ट में अजित पवार ने एनसीपी के जिन विधायकों के साथ होने का दावा कर बीजेपी को समर्थन देकर सरकार बनवाई थी, उनमें से अधिकतर फिर से एनसीपी में वापस लौट गए थे. साथ ही मुख्यमंत्री पद को लेकर भी राउत ने बयान दिया है.

महाराष्ट्र: फ्लोर टेस्ट से पहले बड़ी उथल-पुथल, अजित पवार के बाद फडणवीस ने भी दिया इस्तीफा

शिवसेना सांसद संजय राउत ने मंगलवार को कहा कि राकांपा नेता अजीत पवार ने उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे अब पांच साल के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बनेंगे. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता अजित पवार के इस्तीफे के सवाल में उन्होंने कहा, अजीत पवार ने (उपमुख्यमंत्री पद से) इस्तीफा दे दिया है. अजीत दादा हमारे साथ हैं. अजीत पवार से अच्छा संबंध रहा है. हमने पहले ही कहा था कि भाजपा को जाना ही पड़ेगा. उन्होंने कहा कि आज (मंगलवार) शाम तीनों पार्टियां शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस उद्धव ठाकरे को गठबंधन का नेता चुनेंगी.

महाराष्ट्र में सियासी उफान: अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद से दिया इस्तीफा, फडणवीस भी छोड़ सकते हैं कुर्सी

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस प्रेस कॉन्फेंस कर रहे हैं और साथ ही उन्होंने इस्तीफे की घोषणा कर दी है. इसके पहले सूत्रों के हवाले से उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के इस्तीफे की खबर आई, जिसकी पुष्टि संजय राउत ने की है. सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को निर्देश दिया है कि 27 नवंबर को विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करा कर बहुमत सिद्ध कराया जाए. शीर्ष अदालत के आदेश के बाद यह बात सामने आई है.

इससे पहले सोमवार को संख्या बल दिखाने के लिए शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस ने संयुक्त रूप से अपने 162 विधायकों की सार्वजनिक परेड आयोजित की. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) व उसके सहयोगी अजीत पवार गुट के 170 विधायकों का संख्या बल होने के दावे को गलत साबित करने के लिए पार्टियों द्वारा ऐसा किया गया. राजभवन में बीते शनिवार सुबह आठ बजे देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद व अजित पवार ने राजभवन में उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी.

(इनपुट-आईएएनएस)