नई दिल्लीः महाराष्ट्र में सरकार के गठन को लेकर शिवसेना संजय राउत ने बड़ा बयान दिया है. संजय राउत ने कहा कि सरकार गठन की प्रक्रिया अब अंतिम चरण में है और राज्य में सीएम पद के लिए सभी दलों से बात हो गई है. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में अब अगले पांच साल तक शिवसेना का ही मुख्यमंत्री होगा.

आज सुबह राउत ने कहा कि हम महाराष्ट्र की जनता को समझते हैं और जनता यही चाहती है कि मुख्यमंत्री शिवसेना से ही हो. भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की सरकार को दिल्ली के इशारों पर नहीं चलाया जा सकता. इससे पहले गुरुवार की रात को सरकार गठन के लिए उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार से भी मुलाका की थी.

माना जा रहा है कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर आज तस्वीर साफ हो जाएगी. एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना तीनों ही दलों के बड़े नेता आज मंबई में ही है. बैठकों का सिलसिला जारी है और आज शाम तक कुछ न कुछ फैसला होने की उम्मीद है. वहीं कुछ राजनीतिक दल इस बात पर भी सवाल उठा रहे हैं कि यह तो भविष्य में ही पता चलेगा कि यह खिचड़ी सरकार कब तक चेलगी.

बता दें कि संजय राउत ने शुक्रवार सुबह ट्वीट कर कहा था कि, ‘कभी कभी कुछ रिश्तों से बाहर आ जाना ही अच्छा होता है. अहंकार के लिए नहीं, स्वाभिमान के लिए’ . बता दें महाराष्ट्र चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही शिवसेना की तरफ से सबसे ज्यादा संजय राउत बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं. सूत्रों के अनुसार अब यह भी खबर आ रही है कि अब उद्धव के साथ साथ संजय राउत भी मुख्यमंत्री पद की रेस में है. अब यह तो बाद में ही साफ हो पाएगा कि महाराष्ट्र के सीएम का ताज किसके सिर पर सजेगा.