Also Read - पश्चिम बंगाल के स्कूलों में 'ग्रुप डी' कर्मियों की भर्ती की CBI जांच के आदेश पर कलकत्ता हाईकोर्ट की रोक

कोलकाता, 12 दिसम्बर: पश्चित बंगाल के परिवहन मंत्री मदन मित्रा शुक्रवार को शारदा घोटाले के संबंध में पूछताछ के लिए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) कार्यालय पहुंचे। अधिकारियों ने बताया कि मित्रा सुबह 11 बजे यहां सीजीओ कॉम्प्लेक्स पहुंचे। सीबीआई ने मित्रा को दूसरी बार सम्मन जारी किया था।सीबीआई ने मित्रा को 18 नवंबर को पहला सम्मन जारी किया था, लेकिन खराब स्वास्थ्य के कारण मित्रा हाजिर नहीं हो सके थे। Also Read - Narendra Giri Death Case: CBI ने आनंद गिरि समेत तीन के खिलाफ आरोप पत्र किया दाखिल

एक निजी अस्पताल में उपचार कराने के बाद मित्रा 20 नवंबर को एस.एस.के.एम. अस्पताल में भर्ती हुए थे, जहां से उन्हें 26 नवंबर को छुट्टी दे दी गई थी। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद मित्रा ने घोटाले से किसी तरह का संबंध होने से इंकार करते हुए कहा था कि वह पूछताछ के लिए सीबीआई के समक्ष किसी भी समय हाजिर होने के लिए तैयार है, वह सीबीआई का सहयोग करेंगे। Also Read - Syed Mushtaq Ali Trophy 2021-22: Manish Pandey की कप्तानी पारी, सुपरओवर में छक्के जड़कर टीम को सेमीफाइनल में पहुंचाया

कमरहाटी विधानसभा सीट से विधायक मित्रा ने शारदा के कई कार्यक्रमों में अतिथ के रूप में हिस्सा लिया था, जहां उन्होंने रोजगार पैदा करने के लिए समूह के संरक्षक और घोटाले के मुख्य आरोपी सुदीप्त सेन की प्रशंसा की थी। सीबीआई ने पहले मित्रा के पूर्व निजी सहायक बापी करीम से पूछताछ की थी।

मित्रा राज्य के दूसरे मंत्री हैं, जिनसे सीबीआई पूछताछ कर रही है। इससे पहले इस मामले में कपड़ा मंत्री श्यामपद मुखर्जी से पूछताछ की जा चुकी है।शारदा घोटाले को लेकर राज्यसभा सदस्य कुणाल घोष और सृंजय बोस सहित तृणमूल कांग्रेस के कुछ नेता फिलहाल जेल में हैं।