नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली से कोरोना वायरस के मद्देनजर खुशखबरी सामने आ रही है. राजधानी दिल्ली में कोरोना अब कंट्रोल में आ चुका है. यहां मात्र 12,657 ही कोरोना के एक्टिव मरीज हैं. राज्य के मंत्री संत्येंद्र जैन ने यह कहते हुए बताया कि 1142 नए मामले ही सामने आए हैं. अबतक जितने मामले सामने आ रहे हैं उनसे दोगुने लोगों के इलाज कर ठीक किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि राजधानी में जो कभी 30 प्रतिशत से ज्यादा पॉजिटिव केस थे अब उनकी संख्या कम हो गई और वह मात्र 5 प्रतिशत पर आ चुकी है. Also Read - शिक्षा मंत्रालय ने दिया देशभर के विश्वविद्यालयों को अंतिम वर्ष की परीक्षा कराने का साफ निर्देश

हालांकि इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दिल्ली में कोरोना मामलों में भले ही गिरावट आई है लेकिन फिर भी सतर्क रहने की जरूरत है. हम ढिलाई नहीं बरत सकते. हमने कई प्रयास किए हैं. आगे बोलते हुए मंत्री ने कहा कि होम आइसोलेशन में हमने मरीजों को ऑक्सीमीटर दिया. यह सबसे अच्छी बात थी कि इस कारण लोग खुद से ऑक्सीजन लेवल चेक कर पाए. Also Read - Independence Day 2020: रंग-बिरंगा होगा आसमां, पतंगों के जरिए खत्म हो जाएगा कोरोना!

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि कोरोना के स्तर में गिरावट आई है. साथ ही एक्टिव मामलों में भी काफी गिरावट आई है. अब क्रेडिट कोई भी ले इससे क्या फर्क पड़ता है. मैं तो कहता हूं कि दिल्ली पूरी ठीक हो जाए तो 100 प्रतिशत क्रेडिट उनका. बता दें कि बीते काफी दिनों में दिल्ली में मरने वालों, संक्रमितों की संख्या में गिरावट दर्ज की जा रही है. गौरतलब है कि बीते दिनों प्रधानमंत्री ने भी दिल्ली मॉडल की तारीफ करते हुए कहा था कि सभी राज्यों को यह अपनाना चाहिए. Also Read - लॉकडाउन में मानसून को मिस कर रहे सचिन तेंदुलकर ने लोगों से पूछी उनकी कहानी