एक अक्टूबर यानी महात्मा गांधी की 150वीं जयंती से ठीक एक दिन पहले आपकी रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़ी कई चीजें बदलने वाली हैं. इनमें कुछ चीजें ऐसी हैं जिनको आप घर बैठे कर सकते हैं. दरअसल 1 अक्टूबर से आपके ड्राइविंग लाइसेंस से लेकर आपके बैंक के नियम भी बदलने वाले हैं. भारत में 1 अक्टूबर से सिंगल यूज प्लास्टिक पूरी तरह से बैन होने वाला है. याद होगा शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा से दुनिया को पहले ही बता दिया कि भारत प्लास्टिक मुक्त राष्ट्र बनने की दिशा में एक बहुत बड़ा अभियान शुरू कर रहा है. बापू की 150वीं जयंती पर सरकार ये बड़ा कदम उठा रही है. Also Read - सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस और मोटर व्हीकल डॉक्यूमेंट की वैधता 30 सितंबर तक बढ़ाई

भारतीय स्टेट बैंक बदलेगा ये नियम
भारतीय स्टेट बैंक के नए नियम के तहत बैंक की तरफ से निर्धारित मंथली एवरेज बैलेंस को मेंटेन नहीं करने पर जुर्माने में 80 प्रतिशत तक की कमी आ जाएंगी. यानी अब अगर आपका अकाउंट मेट्रो सिटी में हैं तो मंथली एवरेज बैलेंस (एएमबी) घटकर तीन हजार रुपये हो जायेगा. अगर मेट्रो सिटी खाताधारक 3000 रुपए का बैलेंस मेंटेन नहीं कर पाता और उसका बैलेंस 75 प्रतिशत से कम है तो उसके जुर्माने के तौर पर 80 रुपए प्लस जीएसटी चार्ज देना होगा. हालांकि इसके अलावा मेट्रो सिटी के ग्राहकों को एसबीआई 10 फ्री ट्रांजेक्शन और अन्य शहरों के लिए 12 फ्री ट्रांजेक्शन देगा. इसके अलावा एसबीआई ने एमएसएमई, हाउसिंग और रिटेल लोन के सभी फ्लोटिंग रेट लोन को एक्सटर्नल बेंचमार्क रेपो रेट से जोड़ने का फैसला किया है, जो 1 अक्टूबर 2019 से लागू होगा. Also Read - Driving Licence Online Process: ड्राइविंग लाइसेंस के लिए करना चाहते हैं आवेदन, यह है ऑनलाइन की पूरी प्रक्रिया

500 का टिकट लेकर आते हैं बिहार के लोग और 5 लाख का इलाज कराकर चले जाते हैं: केजरीवाल Also Read - Driving Licence Online Process: घर बैठे कुछ यूं करें ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन, यह है पूरी प्रक्रिया

ग्राहकों को अब नहीं मिलेगा फ्री कैशबैक!
ये नया नियम उनके लिए परेशान कर सकता है जो एसबीआई क्रेडिट कार्ड से रोज पेट्रोल-डीजल भराते हैं! दरअसल एसबीआई क्रेडिट कार्ड से पेट्रोल-डीजल खरीदने पर अब आपको मिलने वाला 0.75 फीसदी कैशबैक नहीं मिलेगा. एचपीसीएल, बीपीसीएल और आईओसी ने कैशबैक स्कीम को वापस लेने का निर्देश दिया है.

अपडेट कराना होगा ड्राइविंग लाइसेंस
सरकार ट्रैफिक नियमों को लेकर काफी सख्त है. ऐसे में 1 अक्टूबर से आपको अपना ड्राइविंग लाइसेंस अपडेट कराना होगा. हालांकि आप इसको ऑनलाइन ही अपडेट कर सकते हैं इसके लिए आरटीओ जाने की जरूरत नहीं है. अब पूरे देश में एक जैसा ड्राइविंग लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट होगा.

1 अक्टूबर से लागू होंगी GST की नई दरें, जानिए क्या होगा महंगा
1 अक्टूबर से GST की नई दरें लागू हो जाएंगी. अब 1000 रुपए तक किराए वाले कमरों पर टैक्स नहीं देना होगा. हालांकि 7500 रुपए तक टैरिफ वाले रूम के लिए 12 प्रतिशत GST लगेगा. हालांकि और भी कई चीजों पर जीएसटी बढ़ भी जाएगा. कैफीन वाले पेय पदार्थों पर जीएसटी अब 28 फीसदी हो जाएगी इसके साथ ही 12 फीसदी का अतिरिक्त सेस भी लगेगा.

लागू होंगी कॉरपोरेट टैक्स में की गई कटौती
1 अक्टूबर से कॉरपोरेट टैक्स में की गई कटौती भी लागू हो जाएगी. बता दें कि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बीते 20​ सितंबर को कॉरपोरेट टैक्स में कटौती 30 फीसदी से घटाकर 22 फीसदी की थी. इसके अलावा अब 1 अक्टूबर 2019 के बाद सेटअप किए गए मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों के पास 15 फीसदी टैक्स भरने का विकल्प होगा. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषणा में कहा था कि इन कंपनियों कंपनियों पर कुल चार्ज 17.01 फीसदी हो जाएगा जिसमें सरचार्ज और टैक्स शामिल होगा.