School Reopening News: देश में जारी कोरोना संकट के बीच करीब सात महीने बाद 19 अक्टूबर से उत्तर प्रदेश, पंजाब और हिमाचल प्रदेश समेत कुछ राज्यों में स्कूल खोले गए. वहीं, कुछ राज्यों में नवंबर से स्कूल खोले जाने की तैयारी है. इनमें उत्तराखंड, असम आंध्र प्रदेश प्रमुख हैं. इन दोनों राज्यों में कोविड-19 प्रोटोकॉल के साथ शैक्षणिक संस्थान नवंबर से खुल जाएंगे. असम के शिक्षा मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि असम में कक्षा 6 से स्नातकोत्तर स्तर तक के छात्रों के लिए सामान्य कक्षाएं फिर से खुलेंगी. हालांकि पांचवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए स्कूलों को बंद ही रखा जाएगा. Also Read - इस राज्य में ऑनलाइन पढ़ाई के लिए छात्रों को मिलेगा Tab, सरकारी कर्मचारियों को महंगाई भत्ते का तोहफा

असम में 2 नवंबर से निजी स्कूलों और कोचिंग सेंटरों को फिर से खोलने की अनुमति दी गई है. हालांकि, अगर निजी स्कूल ऑनलाइन क्लास ही जारी रखना चाहते हैं तो उसमें भी कोई दिक्कत नहीं है. सरमा ने कहा कि सभी शैक्षणिक संस्थानों स्वास्थ्य विभाग के साथ संपर्क में रहना होगा और इनका (संस्थानों) का समय-समय पर निरीक्षण किया जाएगा. Also Read - School reopen latest news: दिसंबर में स्‍कूल खोले जाएंगे या बंद ही रहेंगे? जानें हर सवाल का जवाब

इसी तरह, उत्तराखंड के स्कूल विभाग ने कहा है कि वे कक्षाओं को फिर से शुरू करने के लिए तैयार हैं. उत्तराखंड सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि सभी सावधानियों के साथ 50 फीसदी अटेंडेंस, परिसर की नियमित सफाई और कोरोना से जुड़े हर पहलुओं को ध्यान में रखते हुए स्कूल खोलने को हम पूरी तरह से तैयार हैं. Also Read - School & College Reopening News: इस राज्य में 1 दिसंबर से खुल जाएंगे स्कूल और कॉलेज, जानें इसको लेकर सरकार की क्या है प्लान

वहीं, आंध्र प्रदेश में भी 2 नवंबर से स्कूल खोने जाएंगे. राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने संबंधित अधिकारियों को राज्य के सभी स्कूल 2 नवंबर से खोलने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया. जगन रेड्डी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अधिकारियों को निर्देश दिया कि वह सकूलों में कोविड गाइडलाइंस का पालन कराया जाना सुनिश्चित करें.

उधर, गुजरात के शिक्षा मंत्री ने जल्द ही स्कूलों को फिर से खोलने का संकेत दिया है. उन्होंने कहा कि शैक्षणिक संस्थान हमेशा के लिए बंद नहीं रह सकते.’ उन्होंने कहा कि कोरोनो वायरस के कारण स्कूल बंद हुए छह महीने से ज्यादा समय हो गए हैं. हमें किसी दिन स्कूल खोलना होगा. हालांकि राज्य सरकार इसके लिए विचार-विमर्श कर रही है.

गृह मंत्रालय के ‘अनलॉक 5’ दिशानिर्देशों ने स्कूलों को 15 अक्टूबर के बाद देश भर में धीरे-धीरे फिर से खोलने की अनुमति दी है. हालांकि, निर्णय राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासनों द्वारा ही लिया जाएगा.

स्कूल खोलने से जुड़ी मुख्य गाइडलाइंस (School Reopening Full Guidelines)

– स्कूल खुलने के तीन सप्ताह तक एसेसमेंट टेस्ट नहीं लेना होगा.-
-स्कूलों में एनसीईआरटी द्वारा तैयार वैकल्पिक एकेडेमिक कैलेंडर को लागू किया जा सकता है.
– स्कूलों में मिड-डे मील तैयार करते और परोसे जाते समय सावधानी रखनी होगी.
-स्कूल परिसर में किचन, कैंटीन, वाशरूम, लैब, लाइब्रेरी, आदि समेत सभी स्थानों पर साफ-सफाई और कीटाणुरहित करते रहने की व्यवस्था करनी होगी.
-कक्षाओं में बैठने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. कार्यक्रम और आयोजनों से बचना होगा. स्कूल आने और जाने के टाइम-टेबल बनाना होगा और उसका पालन करवाना होगा.
-सभी छात्र-छात्राएं और स्टाफ फेस कवर या मास्क लगाकर ही स्कूल आएंगे और पूरे समय के दौरान इसे पहने रहेंगे.
– अटेंडेंस की नीतियो में लचीलापन लाना होगा