उस्मानाबाद: महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिला परिषद विद्यालय ने शिवसेना की जिला इकाई द्वारा पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे के लिए जनसभा का आयोजन करने के कारण सोमवार को रसायन शास्त्र की परीक्षा को शुक्रवार तक के लिए टाल दिया है. सूत्रों ने बताया कि ठाकरे की रैली के लिए स्कूल परिसर की दीवार को तोड़ दिया गया. यह रैली जेपी गर्ल्स हाई स्कूल के मैदान में हुई थी.

जिला परिषद के सीईओ संजय कोल्टे ने अपने पत्र में कहा है कि आयोजकों को 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए लागू आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन करना चाहिए और किसी भी परिसर की दीवार या स्कूल भवन को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए. संपर्क करने पर जेपी हाई स्कूल (बालक) के प्रधान अध्यापक डी आर सरार ने स्वीकार किया कि परीक्षा की तारीख को आगे बढ़ाकर 18 अक्टूबर किया गया है.

मराठावाड़ा में भाई और ताई की जंग: परली सीट पर पंकजा मुंडे और धनंजय मुंडे के बीच मुकाबला

इसी दौरान पिछले दिनों महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए सीटों के बंटवारे को लेकर हो रही देरी के बीच शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा था कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ बातचीत सही दिशा में आगे बढ़ रही है और अंतिम निर्णय की घोषणा जल्द ही की जाएगी. उद्धव ने कहा था कि वह शिव सैनिक (पार्टी कार्यकर्ता) को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाने का अपने पिता और शिवसेना के पूर्व प्रमुख दिवंगत बाल ठाकरे से किया वादा पूरा करेंगे.

उद्धव ने कहा कि वह चाहते हैं कि शिवसेना महाराष्ट्र में सत्ता में आए. उन्होंने कहा कि मैंने बालासाहेब से वादा किया था कि मैं एक शिवसैनिक को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाउंगा. मैंने यह वादा पूरा करने की प्रतिज्ञा की है. उन्होंने कहा कि मैं महाराष्ट्र में सत्ता चाहता हूं लिहाजा मैंने सभी 288 सीटों के टिकट के आकांक्षियों को बुलाया है. मैं सभी निर्वाचन क्षेत्रों में पार्टी को मजबूत करना चाहता हूं. अगर गठबंधन होता है तो शिवसेना, भाजपा उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करेगी लेकिन शिवसेना के उम्मीदवारों को भी भाजपा का समर्थन मिलना चाहिए.

Maharashtra Election 2019: चुनावी मैदान में धुरंधरों के बीच भाजपा ने चीनी मिल मजदूर के बेटे को दिया टिकट