नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में जारी कोरोना संकट के मद्देजनजर सभी स्कूलों को 31 जुलाई तक बंद रखने का आदेश जारी किया गया है. ये जानकारी खुद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को दी. उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मद्देनजर दिल्ली में स्कूल 31 जुलाई तक बंद रहेंगे. Also Read - दिल्‍ली में कोरोना के मामले एक लाख के पार, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं: CM केजरीवाल

सिसोदिया ने कहा, ‘‘स्कूलों को फिर से खोलना सिर्फ तकनीकी काम नहीं है, यह रचनात्मक कार्य है जो स्कूलों को नयी और बड़ी भूमिका देगा. दिल्ली में स्कूल 31 जुलाई तक बंद रहेंगे.’’ दिल्ली के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने स्कूलों को फिर से कैसे खोला जाए, इस विषय पर शिक्षा निदेशालय की बैठक के बाद यह घोषणा की. Also Read - दुनिया के सबसे बड़े कोविड अस्पताल की यह है खासियत, गलवान घाटी के शहीदों पर रखे गए वॉर्ड्स के नाम, जानें सबकुछ

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि उनकी सरकार राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर तीन सरकारी सरकारी अस्पतालों में बड़े पैमाने पर आईसीयू बेड लगाएगी. ऑनलाइन प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब तक संक्रमण के 74,000 मामले सामने आए हैं जिनमें से 45,000 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. Also Read - 11 दिनों में बनकर तैयार हुआ देश का सबसे बड़ा Covid 19 अस्पताल, 20 फुटबॉल मैदान जितना है बड़ा, जानें खासियत

केजरीवाल ने कहा कि मामलों की बढ़ती संख्या चिंता का विषय है लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि कोविड-19 स्थिति ‘‘अब भी नियंत्रण में है.” उन्होंने कहा, “हमने जांच की क्षमता तीन गुना बढ़ा दी है और इसलिए शहर में मामले बढ़ रहे हैं.”