श्रीनगर: कश्मीर में स्कूल सोमवार को फिर से खुल गए. छह महीने से ज्यादा समय तक बंद रहने के बाद घाटी में स्कूल खुले हैं. 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद से प्रतिबंधों व बंद के बाद शैक्षिक संस्थान बंद कर दिए गए थे. इस बीच सरकार ने हमेशा की तरह तीन महीने के शीतकालीन अवकाश की घोषणा की थी. सोमवार को श्रीनगर के ज्यादातर स्कूल छात्रों से गुलजार थे और अभिभावक छात्रों के साथ स्कूल जाते देखे गए. Also Read - Jammu and Kashmir: कुलगाम में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़, तीन आतंकी हुए ढेर

श्रीनगर के कोठी बाग उच्चतर माध्यमिक स्कूल की 12वीं कक्षा के छात्र इरा ने कहा, “उम्मीद है कि 2020 हमारे लिए अच्छा होगा. यह शांतिपूर्ण होगा और हमारी शिक्षा पर असर नहीं पड़ेगा.” Also Read - सात महीने की हिरासत के बाद रिहा होंगे उमर अब्दुल्ला, जम्मू-कश्मीर सरकार ने जारी किए आदेश

श्रीनगर के मलिंसन स्कूल के कक्षा सातवीं के छात्र अजमत ने कहा, “हम अपनी कक्षाओं के शुरू होने से खुश हैं, काफी लंबे समय बाद अपने शिक्षको व दोस्तों से मिलना अच्छा लग रहा है. हम सिर्फ उम्मीद कर सकते हैं कि हम पिछले साल हमारी शिक्षा में हुए नुकसान की जल्द भरपाई करने में सक्षम होंगे.” Also Read - फारूक अब्दुल्ला ने PM मोदी को लिखा पत्र, 4G इंटरनेट सेवाओं को बहाल करने की मांग

अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद सरकार ने कश्मीर में चरणबद्ध तरीके से स्कूलों को खोलने का आदेश दिया था. सामान्य जनजीवन बहाल करने के लिए ऐसा आदेश दिया गया था, लेकिन इस कदम को सफलता नहीं मिली क्योंकि छात्र स्कूल नहीं आए.

लेकिन लंबे समय तक शिक्षा से दूर रहने के बाद ज्यादातर छात्र व उनके माता-पिता को अब उम्मीद है कि उनके बच्चों की नियमित पढ़ाई में कोई रुकावट नहीं आएगी.

(इनपुट भाषा)