Schools Reopen in Punjab: करीब छह माह की बंदी के बाद पंजाब में एक बार फिर स्कूल खुलने जा रहे हैं. Unlock 5.0 के तहत राज्य में नौवीं से 12वीं तक के स्कूल खुलेंगे. पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा कि राज्य सरकार ने कंटेनमेंट जोन से बाहर के स्कूलों को 19 अक्टूबर से खोलने का फैसला किया है. अभी ये स्कूल केवल नौवीं से 12वीं के बच्चों के लिए खुलेंगे.Also Read - Schools Reopen Today: मध्य प्रदेश-पंजाब-गुजरात सहित इन राज्यों में आज से खुल गए हैं स्कूल, जानिए गाइडलाइंस

पंजाब सरकार की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि राज्य के गृह विभाग ने कंटेनमेंट जोन से बाहर के इलाकों में स्कूल खोलने का आदेश जारी किया है. वहीं राज्य के शिक्षा विभाग ने इस बारे में एक एसओपी जारी किया है. इस बारे में राज्य के सभी जिलाधिकारों को आदेश भेज दिया गया है. Also Read - MP schools reopen: सीएम शिवराज का बड़ा ऐलान-मध्य प्रदेश में 25 जुलाई से खुल जाएंगे स्कूल, जानिए और क्या कहा

शिक्षा मंत्री ने कहा कि स्कूल खुलने पर छात्रों की सुरक्षा सबसे बड़ा मुद्दा है. इसके लिए शिक्षा विभाग ने अधिकारियों की विशेष टीमें बनाई हैं जो एसओपी को प्रभावी तरह से लागू करवाएंगे. Also Read - Schools Reopen Latest Update: पुडुचेरी में 16 जुलाई से खुलेंगे स्कूल, महाराष्ट्र-दिल्ली-यूपी बिहार में कब खुलेंगे स्कूल, जानिए

Schools in Punjab to reopen from October 19 for classes 9th to 12th

उन्होंने कहा कि भले ही स्कूल खोले जा रहे हैं लेकिन अभी ऑनलाइन क्लासेस जारी रहेंगे और छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं की गई है.

उन्होंने कहा कि माता-पिता से लिखित में मंजूरी मिलने के बाद भी कोई छात्र फिलहाल स्कूल आ सकता है. उन्होंने कहा कि इस बारे में माता-पिता को भी यह सुनिश्चित करना होगा कि उनका जो बच्चा स्कूल जा रहा है वह ठीक तरीके से मास्क पहना हो. उसे इसके लिए भी जागरुक करना होगा कि वह अपने साथियों के साथ मास्क की अदला-बदली न करे.

इसके साथ बच्चों को पूरी बाजू की शर्ट पहनने की सलाह दी गई है जिससे कि संक्रमण का खतरा कम से कम किया जा सके.

उन्होंने कहा कि हर रोज स्कूल केवल तीन घंटे के लिए खोले जाएंगे. नौवीं से 12वीं के अलावे किसी भी दूसरे क्लास के बच्चों को अभी स्कूल नहीं बुलाया जा रहा है.

इसके अलावे बच्चे की संख्या अधिक होने और स्कूल में जगह की कमी पड़ने पर हेडमास्टर या प्रबंधन दो पालियों में स्कूल चलाने पर फैसला ले सकते हैं, जिससे कि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह के पालन किया जा सके.