नई दिल्लीः चीन(China) के वुहान प्रांत से शुरू हुआ कोरोना वायरस(corona virus) अब पूरी दुनिया में फैल चुका है. चीन सहित दुनिया सभी देश इस गंभीर वायरस से बचने के उपाय जुटाने में लगे हुए हैं. भारत में अब कोरोना वायरस के दूसरे मामले की पुष्टि हो चुकी है. यह दूसरा मामला भी केरल से ही सामने आया है . जिस व्यक्ति में कोरोना के वायरस पाए गए हैं वह हाल ही में चीन की यात्रा से भारत लौटा था. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, ‘‘मरीज कोरोना वायरस से पीड़ित पाया गया है और उसे अस्पताल में अलग कमरे में रखा गया है.’’ Also Read - Kerala: हेलि‍कॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, सुप्रस‍िद्ध कारोबारी, उसकी पत्‍नी समेत 7 लोगों की ऐसेे बची जान

भारत में कोरोना वायरस का पहला मामला भी केरल में दर्ज किया गया था, जहां एक छात्र के इससे पीड़ित होने की पुष्टि हुई थी. फिलहाल अभी ताजा मामले की जानकारी देते हुए बताया गया है कि मरीज की हालात स्थिर है और उस पर करीबी नजर रखी जा रही है. Also Read - COVID-19: देश की सड़कें फिर नजर आईं सूनी, कोरोना संक्रमण के 72 फीसदी से ज्‍यादा केस सिर्फ इन 5 राज्यों से हैं

भारत कोरोना वारय को लेकर सचेत है और सभी जरूरी उपाय बरते जा रहे हैं. चीन से लौटने वाले सभी यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग के जरिए जांच की जा रही है. स्वास्थ मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन(Harsh Vardhan) ने जानकारी देते हुए कहा कि शनिवार को देश में आए करीब 52 हजार से अधिक यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग की गई. Also Read - Covid19: इन 10 राज्यों में 83.29 प्रतिशत कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामले

उन्होंने बताया कि यह संदिग्ध मामला वुहान विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने वाले केरल के छात्र का है. मंत्री ने बताया कि छात्र 24 जनवरी को चीन से लौटा था और उसे अभी अलप्पुझा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अलग रखा गया है और उसकी हालत स्थिर है.

उन्होंने कहा, ‘‘ मरीज में मामूली लक्षण दिख रहे हैं लेकिन हम कोई जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं. पुष्टि नहीं होने के बावजूद हमने उचित एहतियात बरती है. जांच के परिणाम शाम तक आ सकते हैं.’’

आपको बता दें कि रविवार सुबह एयर इंडिया का दूसरा विमान 323 भारतीय यात्रियों को लेकर भारत लौटा जबकि इससे पहले शनिवार को भी एयर इंडिया के विमान द्वारा 324 भारतीयों को वापस लाया गया था. विश्व स्वास्थ संगठन(WHO) ने भी दुनिया भर के देशों को कोरोना वायरस को लेकर चेताया है और कहा कि इस खतरनाक विषाणु से निपटने के लिए तैयार रहें