नई दिल्ली: देश की दूसरी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन त्योहारी मौसम से पहले शुरू हो जाएगा. यह ट्रेन दिल्ली-कटरा के बीच चलेगी. रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद यादव ने मंगलवार को जानकारी देते हुए कहा कि यह तीर्थयात्रियों के लिए एक उपहार होगी और यह नवरात्रों में यह शुरू हो जाएगी. उन्‍होंने बताया कि 2022 तक 40 वंदे भारत की ट्रेनें चलेंगी. नई विशेषताओं पर काम किया जा रहा है. पारदर्शिता होगी, यह एक ‘मेक इन इंडिया’ परियोजना होगी. बता दें कि पहली वंदे भारत एक्सप्रेस (ट्रेन 18) की शुरूआत दिल्ली-वाराणसी मार्ग पर हुई थी. Also Read - Corona को हराने भारतीय रेलवे भी हुआ तैयार, ट्रेन की बोगियों को आइसोलेशन वार्ड में किया तब्दील

यादव ने कहा कि रेलवे बोर्ड ने दिल्ली-कटरा मार्ग को इसलिए चुना, क्योंकि वैष्णो देवी जाने वाले श्रद्धालुओं के चलते यह मार्ग काफी व्यस्त है. इंडियन रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा कि दिल्ली-कटरा वंदे भारत ट्रेन का ट्रायल पूरा हो चुका है. यह तीर्थयात्रियों के लिए एक उपहार होगी और यह नवरात्रि में शुरू हो जाएगी. यादव ने कहा, हम अपने व्यस्त मार्गों को अपग्रेड करने का प्रयास कर रहे हैं. दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-हावड़ा दिसंबर 2021 तक तैयार हो जाएंगे. Also Read - Corona Impact: स्टेशन की ओर न दौड़ें, टिकट कैंसिल कराने की समय सीमा बढ़ी, रेलवे ने कहा- गंभीरता समझें, घर में रहें

भारतीय रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष यादव ने कहा कि 2022 तक 40 वंदे भारत की ट्रेनें चलेंगी. नई विशिष्टताओं पर काम किया जा रहा है. पारदर्शिता होगी, यह एक ‘मेक इन इंडिया’ परियोजना होगी.

इस हाईस्पीड ट्रेन से दिल्ली और कटरा के बीच यात्रा का समय कम हो जाएगा. कटरा वैष्णो देवी मंदिर जाने के रास्ते में आखिरी रेलवे स्टेशन है. दिल्ली-कटरा के बीच वर्तमान समय में ट्रेन से सफर में 12 घंटे का समय लगता है, जो वंदे भारत शुरू होने के बाद कम होकर आठ घंटे हो जाएगा.