श्रीनगर: जम्मू एवं कश्मीर के श्रीनगर के बाहरी इलाके में 18 घंटे तक चली मुठभेड़ खत्म हो गई है. इसमें सुरक्षाबलों ने 18 घंटे तक चली मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के एक पाकिस्तानी कमांडर और दो कश्मीरी आतंकवादियों को मार गिराया गया है. मारे गए आतंकवादियों की पहचान की जा रही है.

मुजगुंड इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर लिया, जिसके बाद दोनों ओर से 18 घंटों तक मुठभेड़ जारी रही. मुठभेड़ में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का एक जवान और तीन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.

एक अधिकारी ने कहा, ‘‘मुज्गुंड अभियान में तीन आतंकवादी मारे गए हैं.’’ उन्होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल से कई हथियार भी बरामद किए गए हैं. सुरक्षाबलों ने शनिवार शाम श्रीनगर-बांदीपुरा मार्ग के पास मुज्गुंड इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था. आतंकवादियों के सुरक्षाबलों पर गोलीबारी करने के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई थी.

रात में गोलीबारी रुक गई थी. सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर रखी थी, ताकि आतंकवादी वहां से भाग न पाएं. अधिकारी ने बताया कि रविवार सुबह मुठभेड़ फिर शुरू हुई और गोलीबारी में तीन आतंकवादी मारे गए. मारे गए आतंकवादियों की पहचान और उनके संगठन का अभी पता नहीं चल पाया है.

इस अभियान के दौरान चार रिहायशी घर भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं, क्योंकि आतंकवादी मुठभेड़ स्थल पर अपना स्थान बदलकर सुरक्षा बलों पर गोलीबारी कर रहे थे. मुठभेड़ खत्म होने के बाद नागरिकों और सुरक्षा बलों के बीच झड़पें हुईं है. प्रशासन ने श्रीनगर जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने शहर के बाहरी इलाका स्थित मुजगुंड में श्रीनगर-बांदीपुरा मार्ग के पास शनिवार शाम में घेराबंदी की और तलाश अभियान शुरू किया. उन्होंने बताया कि सुरक्षा बल जब तलाशी कर रहे थे, तभी आतंकवादियों ने उनके ऊपर गोलीबारी शुरू कर दी. इस पर सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की, जो मुठभेड़ में बदल गई.