श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच बुधवार को एक संक्षिप्त मुठभेड़ में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) का एक स्वयंभू जिला कमांडर मारा गया. पुलिस ने यह जानकारी दी. पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि पुलवामा जिले के चकोरा इलाके में सेना और पुलिस के एक संयुक्त गश्ती दल पर आतंकवादियों की गोलीबारी के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. पुलवामा में वह आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का जिला कमांडर था.

आतंकी से आर्मी ऑफिसर बने नजीर वानी को मरणोपरांत मिला अशोक्र चक्र सम्मान, शहादत को देश का सलाम

प्रवक्ता ने बताया, इसके बाद, मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया. मारे गए आतंकवादी की पहचान एक स्थानीय निवासी इरफान अहमद शेख के रूप में की गई है.

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 838 आतंकी मार गिराए बीते चार सालों में: सरकार

प्रवक्ता ने बताया कि शेख लश्कर-ए-तैयबा से संबद्ध था और पुलवामा में संगठन के जिला कमांडर के रूप में जाना जाता था. आतंकी अपराधों में उसकी सहभागिता के कारण पुलिस को उसकी तलाश थी.

प्रवक्ता ने बताया कि इरफान शेख का एक लंबा आपराधिक इतिहास था, जिसमें उसके खिलाफ कई आतंकी मामले दर्ज थे. ग्रेनेड हमलों सहित इलाके में सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर कई आतंकी हमलों और साजिश में वह संलिप्त था.