नई दिल्ली/श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शनिवार की सुबह से आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच चल रहे मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए. यह मुठभेडड़ पुलवामा के राजपोरा में हुआ. बता दें कि सुरक्षाबलों को शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात में ही वहां आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. इसके बाद सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया और कार्रवाई शुरू कर दी. Also Read - केंद्र सरकार ने सिविल सर्विसेज का जम्मू-कश्मीर कैडर किया खत्म, अधिसूचना जारी कर AGMUT में किया विलय

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, खुद को घिरा देखकर आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी. इसके बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई शुरू की. दोनों आतंकी वहां से भागने की फिराक में थे. लेकिन सुरक्षाबलों ने इलाके को पूरी तरह से घेर रखा था. Also Read - जम्मू कश्मीर: 2020 में 87.13 प्रतिशत कम हुईं पत्थरबाजी की घटनाएं, DGP ने बताई वजह

बता दें कि शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में पुलवामा जिले के अवंतिपुरा इलाके में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में शुक्रवार को एक आतंकवादी मारा गया. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने अवंतिपुरा के बांदेरपुरा-रिंजीपुरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिलने के बाद शुक्रवार को सुबह इलाके की घेराबंदी की और तलाश अभियान चलाया. उन्होंने बताया कि आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों के खोज दल पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. Also Read - जम्मू-कश्मीर की जनता की आकांक्षाएं पूरी करने में रेलवे परियोजनाओं का अहम योगदान: गोयल

यूसुफ वानी हुआ था ढेर
अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ चल रही थी. एक आतंकवादी ढेर हो गया. उन्होंने बताया कि मृत आतंकवादी की पहचान दक्षिण कश्मीर में पुलवामा के कोइल इलाके के इश्फाक यूसुफ वानी के रूप में हुई. अधिकारी ने बताया कि विस्तृत जानकारी की प्रतीक्षा है.