कच्छ/नई दिल्ली/चंडीगढ़. पाकिस्तान से बढ़ते तनाव के बीच पंजाब और गुजरात समेत पड़ोसी देश से लगीं अन्य राज्यों की समुद्री और जमीनी सीमाओं पर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है. इसके अलावा प्रमुख स्थानों पर निगरानी बढ़ाने के साथ सीमाओं के नजदीक लोगों की यात्रा पर पाबंदी लगा दी गई है. पुलिस अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. दिल्ली के पास स्थित गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस को हाई-अलर्ट पर रखा गया है. वहीं, जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तानी हमलों की आशंका के मद्देनजर गुरुवार को सभी निजी और सरकारी स्कूलों में छुट्टी की घोषणा कर दी गई है. यह कदम पुलवामा हमले के बाद मंगलवार को भारतीय वायुसेना के पाकिस्तान में आंतकी शिविरों पर हमले और पाकिस्तान की ओर से बुधवार को की गई जवाबी कार्रवाई के मद्देनजर उठाया गया है.

भारत ने पाकिस्तान को चेताया- हमारे पायलट के साथ न हो बदसलूकी, सुरक्षित लौटाएं

गुजरात में तैनात अधिकारियों ने कहा कि सीमा के नजदीक सभी नागरिक कार्यों को निलंबित कर दिया गया है और सीमावर्ती जिलों में सभी महत्वपूर्ण जगहों पर भारी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. महानिरीक्षक (सीमा क्षेत्र) डीबी वघेला ने कहा, “उन्होंने समुद्री और जमीनी सीमाओं पर आंतरिक सुरक्षा के लिये एक निश्चित योजना तैयार की है. सशस्त्र बल सीमा की रक्षा कर रहे हैं. उन्होंने बताया, “हमारा ध्यान आंतरिक सुरक्षा पर है. हम यह सुनिश्चित करने के लिये काम कर रहे हैं कि मौजूदा तनाव के दौरान सीमा इलाकों में कोई गड़बड़ न हो.”

इधर, उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद जिले के हिंडन एयरफोर्स स्टेशन क्षेत्र में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि एयरबेस (बाहरी घेरे) के आसपास पुलिस अतिरिक्त चौकसी बरत रही है, जबकि स्टेशन (भीतरी घेरे) की जिम्मेदारी एयरफोर्स पुलिस पर है. एयरोस्पेस और रक्षा कंपनी भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड की चारदीवारी के बाहर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है. साहिबाबाद इलाके में सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड के आसपास भी पुलिस निगरानी रख रही है. अधिकारी ने बताया कि मुरादनगर में ऑर्डिनेंस फैक्टरी के इर्द गिर्द भी सतर्कता बरती जा रही है.

इस बीच भारत और पाकिस्तान के मध्य तनाव बढ़ने के बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बुधवार को कहा कि राज्य में स्थिति ‘पूरी तरह से नियंत्रण’ में है और किसी भी तरह के हालात के लिए अस्पताल तैयार हैं. एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि सिंह ने जालंधर में सरहदी इलाकों की एक समीक्षा बैठक की जिसमें सेना, सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी), पंजाब पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए. उन्होंने राज्य के सीमावर्ती इलाकों में स्थिरता और सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सेना को हर संभव सहायता दी और स्थानीय लोगों से अफवाहों से सावधान रहने की अपील की.

(इनपुट – एजेंसी)