Coronavirus Vaccine: ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) की ओर से कोवीशील्ड को आपात यूज के लिए इजाजत मिल चुकी है और अब कोरोना वैक्सीन को लेकर सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने कहा कि वह भारतीय औषधि नियामक से मंजूरी मिलने के बाद आने वाले हफ्तों में देश में कोविशिल्ड टीका उपलब्ध कराने के लिये तैयार है. Also Read - COVID-19 Vaccination Drive: वैक्सीन का इंतजार हुआ खत्म, दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के लिए देश तैयार

पुणे स्थित टीका बनाने वाली मुख्य कंपनी एसआईआई ने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और एस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर कोविशील्ड टीके को तैयार किया है. भारत के औषध महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने कोविशिल्ड और भारत बायोटेक के कोवैक्सीन को सीमित आपातकालीन उपयोग के लिये रविवार को मंजूरी दे दी. Also Read - Coronavirus Vaccination: इस देश ने कोविड-19 के लिए भारत में बनी एस्ट्राजेनेका के टीके को दी मंजूरी

पूनावाला ने ट्वीट किया, ‘‘सभी को नववर्ष की शुभकामनाएं. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने टीके के भंडारण के लिये जो जोखिम उठाये, अंतत: उसका फल मिल रहा है. भारत का पहला कोविड-19 टीका ‘कोविशील्ड’ आगामी सप्ताह में टीकाकरण के लिये स्वीकृत, सुरक्षित, प्रभावी और तैयार है.’’ Also Read - बिहार में कोरोना का पहला टीका सफाई कर्मचारी को लगेगा, टीकाकरण की तैयारियां पूरी

कंपनी ने पहले ही टीके के लगभग पांच करोड़ खुराक का स्टॉक तैयार कर लिया है और अगले साल मार्च तक हर महीने 10 करोड़ खुराक बनाने का लक्ष्य रखा गया है. केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की एक केाविड-19 विषयक विशेषज्ञ समिति (एसईसी) द्वारा प्रस्तुत सिफारिशों के आधार पर डीसीजीआई द्वारा इन दो टीकों के आपात उपयोग की मंजूरी दी गयी है.