नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दे पर प्रदर्शन कर रहे शहीनबाग के प्रदर्शनकारियों ने शनिवार को कहा कि वह केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात करने को तैयार हैं. प्रदर्शकारियों को यहां बैठे दो महीने से ज्यादा समय हो गए हैं. पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने हालांकि कहा कि इस बाबत प्रदर्शनकारियों ने ना तो शाह से मिलने की इजाजत मांगी है और ना ही उन्हें इसकी इजाजत दी गई है. Also Read - Covid-19: गृह मंत्री अमित शाह से लेकर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ तक, इन राज नेताओं ने जलाए दीये

वहीं इस मुद्दे पर केंद्रीय गृहमंत्री के कार्यालय ने शनिवार को कहा कि यदि तय प्रक्रिया के तहत कोई अपनी बात रखने के लिए अनुरोध करता है तो सरकार के प्रतिनिधि उससे मुलाकात कर सकते हैं. हालांकि, गृहमंत्री के कार्यालय ने इस बात को साफ किया कि गृहमंत्री से मुलाकात करने के लिए शाहीनबाग के प्रदर्शनकारियों की ओर से कोई अनुरोध नहीं किया गया है. प्रतिनिधिमंडल के ‘स्वभाव’ को देखकर निर्णय लिया जाएगा. Also Read - स्वास्थ्य व गृह मंत्रालय ने जारी किए आंकड़े, भारत में कोविड-19 से 83 लोगों की मौत, संक्रमण के मामलों की संख्या 3,577 हुई

कार्यालय की ओर से कहा गया कि शाहीनबाग प्रदर्शनकारियों के प्रतिनिधमंडल में यदि गणमान्य लोग शामिल हुए और उनकी ओर से अनुरोध आया, तो गृहमंत्री को उनसे मिलने में कोई आपत्ति नहीं होगी. Also Read - लॉकडाउन में खेती-किसानी को छूट, खुली रहेंगी ट्रकों की गैरेज, कृषि मशीनरी की दुकानें

(इनपुट आईएएनएस)