नई दिल्ली: आगामी लोकसभा चुनाव में सभी विपक्षी दलों को साथ लाने की पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की कवायद के तहत शनिवार को कोलकाता में आयोजित विशाल रैली में एक दर्जन से अधिक विपक्षी दलों के नेता एक मंच पर नजर आए और उन्होंने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने की हुंकार भरी. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता की ओर से आयोजित इस रैली में शामिल होकर 20 से अधिक वरिष्ठ नेताओं ने अपनी एकजुटता प्रदर्शित की. विपक्ष के नेताओं ने अपनी बात रखी. Also Read - Assembly Election: चुनाव से पहले मेहरबान हुईं ममता बनर्जी, पुजारियों के बाद दुर्गा पूजा समितियों में भी बांटेंगी पैसे

इसी क्रम में सीनियर नेता शरद यादव भी मंच पर बोलने आए. हालांकि उन्होंने अनजाने में एक गलती कर दी. वह राफेल में घोटाले की बात कर रहे थे लेकिन उनके मुख से बार-बार बोफोर्स निकल रहा था. हालांकि उनके भाषण के बाद टीएमसी नेता डेरेक ने उन्हें बताया कि उन्हें राफेल बोलना था बोफोर्स नहीं, इसके बाद शरद यादव ने अपनी गलती सुधारी. हालांकि तब तक देर हो चुकी थी. Also Read - Durga Puja Guidelines: बंगाल में दुर्गा पूजा के लिए जारी हुए दिशानिर्देश, पूजा समितियों को ममता दीदी की सौगात

शरद यादव ने कहा- आज इतिहास का बहुत बड़ा मौका है. देश संकट में है. किसान तबाह है, नौजवान बर्बाद हो रहा है. युवा निराश है. जीएसटी की वजह से व्यापारी परेशान हैं. नोटबंदी के चलते देश की अर्थव्यवस्था 10-12 साल पीछे चली गई है. लगभग 7 करोड़ लोग नोटबंदी के चलते बेरोजगार हुए हैं. तबाही और बर्बादी है. इसके बाद वह राफेल की बात करने लगे लेकिन उन्होंने बोफोर्स का नाम ले लिया. शरद यादव ने कहा, बोफोर्स की लूट, फौज का हथियार, फौज का जहाज यहां लाने का काम हुआ. डकैती डालने का काम बोफोर्स में हुआ है. डकैती हो गई है. शरद यादव अपनी बात कहते रहे. उनका भाषण खत्म भी हो गया लेकिन उन्हें अपनी गलती का एहसास नहीं हुआ. Also Read - पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव की हालत स्थिर, सेहत में लगातार हो रहा सुधार

भाषण के अंत में टीएमस नेता डेरेक ओ ब्रायन उनके पास आए और कहा कि राफेल बोलेने की जगह आपने बोफोर्स बोल दिया. इसके बाद शरद यादव ने कहा कि माफ करना मैंने बोफोर्स बोला मैं राफेल की बात कर रहा था. उन्होंने अपना भाषण राफेल, राफेल, राफेल कहते हुए खत्म किया. शरद यादव की इस गलती पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि शरदजी ने गलती ठीक कर ली है. कभी-ककभी हमारे मुख से पुरानी बात निकल जाती है, लेकिन ठीक है. शरद जी ने ठीक कर लिया है वह राफेल की बात कर रहे थे.

भले ही किसी और के कहने पर शरद यादव ने अपनी गलती ठीक कर ली, लेकिन बीजेपी को मौका मिल गया. बीजेपी ने अपने ट्विटर हैंडल पर शरद यादव के भाषण का वही हिस्सा पोस्ट किया जिसमें वह राफेल की बजाय बोफोर्स घोटाले का जिक्र करते दिखाई दिए. इस वीडियो को शेयर करते हुए बीजेपी ने लिखा महागठबंधन के मंच पर नेताओं की जुबान से निकला सच. बोफोर्स पर बोलने के लिए हिम्मत दिखाने के लिए शरदजी आपका बहुत-बहुत धन्यवाद.