नई दिल्लीः शनिवार को भाजपा द्वारा अजित पवार के समर्थन से सरकार बनाने के बाद से महाराष्ट्र की राजनीति में भूचाल आ गया है. और तब से लगातार एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना भाजपा को घेरने की पुरजोर कोशिश में लगी हुई हैं. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के माध्यम से एक बार फिर से भाजपा पर कड़ा प्रहार किया है. शिवसेना संडे के पत्र में लिखा कि भाजपा ने रात के अंधेरे में लोकतंत्र की हत्या की है.

रविवार को शिवसेना के मुखपत्र में संपादकीय नहीं छापा गया लेकिन पत्र में हेडिंग के माध्यम से नई सरकार पर आरोप लगाए गए हैं. पत्र में सरकार की आलोचना करते हुए कई सारी हेडलाइन्स लिखी गई है जिनमें लिखा है कि रात के अंधेरे में लोकतंत्र की हत्या, इसके बाद एक और हेडलाइन दी गई है जिसमें लिका गया है कि ये एक फर्जीकल स्ट्राइक है, इसी हेडलाइन के नीचे सब हेड में लिखा है कि महाराष्ट्र लेगा इसका बदला.

सिर्फ सामना ही नहीं बल्कि संजय राउत ने भी सरकार पर एक बार फिर से निशाना साधा है उन्होंने ट्विट करके लिखा कि यह एक एक्सीडेंटल शपथ समारोह है. बता दें शुक्रवार रात तक यही लग रहा था कि महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस, एनसीपी की सरकार बनेगी लेकिन शनिवार सुबह महाराष्ट्र की राजनीति में उस समय भूचाल आ गया जब पूरे देश ने देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री और अजित पवार को डिप्टी सीएम पद की शपथ लेते हुए देखा.