शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में यूपी के मंत्री आजम खान को उनके एक बयान पर आड़े हाथ लिया है। दरसल दादरी में एक शख्स की बीफ खाने की अफवाह पर हत्या करने के मामले की शिकायत यूएन से करने की बात कहने वाले यूपी के मंत्री आजम खान की यह बात शिवसेना को अच्छी नहीं लगी। शिवसेना ने अपने मुखपत्र में आजम खान को देशद्रोही करार करने के लिए कहा है और साथ ही उनको देश से निकालने के लिए भी कहा है।

मुलायम सिंह यादव की देश भक्ति को ललकारते हुए शिवसेना ने कहा है कि अगर मुलायम सिंह यादव के रगो में थोड़ी भी देश भक्ति है, तो वे आजम खान नामक मंत्री के पीछे लात मार कर उसे घर बैठा देंगे। शिवसेना का कहना है की पाकिस्तान में हिन्दुओ पर अत्याचार किया जा रहा है। इस पर लोगो को आवाज़ उठानी चाहिए ना की अपने देश की शिकायत यूएन से करने की बात करनी चाहिए। दादरी मामले की शिकायत यूएन से करने की बात कहने के कारण शिवसेना ने आजम को बताया है देशद्रोही।

शिवसेना कहती है की पाकिस्तान उठते-बैठते संयुक्त राष्ट्र की ओर दौडता है। वैसे ही आजम खान क्यों नहीं हिन्दुओं पर पाकिस्तान में हो रहे जुल्म के बारे में संयुक्त राष्ट्र से कहते है। वही इस मुद्दे पर पत्र लिख कर संयुक्त राष्ट्र के पास आवाज उठाने का काम आजम खान क्यों नहीं करता।

आज़म खान ने यूएन को लिखी थी चिटी जिसमे हाल में दादरी कांड को संयुक्त राष्ट्र में उठाया था। यूएन महासचिव बान की मून को चिटी लिखी गयी थी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर आरोप लगाया कि भारत में मुस्लिमों के जान को खतरा है और यहाँ मुसलमानों के नरसंहार की साजिश रची जा रही है।