Weather Update: उत्तर भारत में बारिश (Rain) का दौर अभी खत्म नहीं हुआ है. गुरुवार को भी उत्तराखंड (Uttarakhand) के पहाड़ों से लेकर बिहार (Bihar) के मैदानी इलाकों तक बारिश होने की आशंका है. मौसम विभाग ने 22 से 24 अक्टूबर तक जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बारिश व बर्फबारी की भविष्यवाणी की है. हालांकि, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बुधवार को बताया कि 26 अक्टूबर तक देशभर से दक्षिण-पश्चिम मानसून (Monsoon) पूरी तरह से विदा हो जाएगा. इसके साथ ही उत्तर-पूर्वी मानसून के आने का रास्ता भी साफ हो जाएगा.Also Read - Gautam Gambhir को ISIS Kashmir नाम से मिली जान से मारने की धमकी, पुलिस ने सुरक्षा बढ़ाई

इस बार दक्षिण-पश्चिम मानसून देर से विदा हो रहा है, देश के कई इलाकों में इसकी वजह से अब भी बारिश का दौर थमा नहीं हैं. मौसम विभाग ने कहा है कि पूर्वोत्तर भारत के कई हिस्सों, जिसमें बंगाल की समूची उत्तरी खाड़ी, पश्चिम बंगाल और मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्से, ओडिशा के कई हिस्से, आंध्र प्रदेश व तेलंगाना के कुछ हिस्से, गोवा, कर्नाटक के कुछ हिस्से और मध्य अरब सागर के कुछ हिस्सों से 23 अक्टूबर के आसपास दक्षिण-पश्चिम मानसून के पीछे हटने की परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं. Also Read - Top 5 Honeymoon Destinations in India: शादी के बाद हनीमून पर कहां जाएं? भारत की सबसे फेमस और बजट फ्रेंडली हनीमून डेस्टिनेशन | Watch Video

मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी और दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में उत्तर-पूर्वी हवाएं आने की संभावना बढ़ गई है और इसी के साथ 26 अक्टूबर तक दक्षिण-पश्चिम मानूसन के देश से पूरी तरह चले जाने की संभावना है. मौसम विभाग की मानें तो 26 अक्टूबर के आसपास उत्तर-पूर्वी मानसून से बारिश शुरू होने की उम्मीद है. बता दें कि उत्तर-पूर्वी मानसून के कारण देश के पूर्वी तट यानी तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, पुडुचेरी के साथ ही केरल और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में भी बारिश होती है. Also Read - कर्नाटक में बारिश का कहर: अब तक 24 लोगों की मौत, 5 लाख हेक्टेयर फसल नष्ट