नयी दिल्ली: माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर डाक्टरों की हड़ताल से उपजे संकट का राजनीतिकरण करने और भाजपा पर इस मामले में सांप्रदायिक आधार पर राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश करने का आरोप लगाया है.

 

येचुरी ने शुक्रवार को कहा है कि इस मामले में पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के रवैये की वजह से डाक्टरों की हड़ताल से चिकित्सा सेवाओं का संकट गहरा गया है. येचुरी ने ट्वीट कर कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार को आंदोलनरत डाक्टरों से खुद बातचीत की पहल कर इस संकट को युद्धस्तर पर सुलझाना चाहिये. मुख्यमंत्री इस मामले में अपनी मौलिक जिम्मेदारी निभाने के बजाय समस्या का राजनीतिकरण करने की कोशिश कर रही है.

भाजपा पर भी बोला हमला
उन्होंने कहा कि भाजपा भी इस मामले के पीड़ितों की धार्मिक पहचान को उजागर कर इस मुद्दे का सांप्रदायिकरण करना चाहती है. उल्लेखनीय है कि बृहस्पतिवार को बनर्जी ने कोलकाता स्थित एसएसकेएम अस्पताल का दौरा करने के बाद कहा था कि मेडिकल कालेज में बाहरी लोग आकर व्यवधान पैदा कर रहे हैं. उन्होंने डाक्टरों की हड़ताल को माकपा और भाजपा की साजिश करार दिया था.

छह सूत्रीय मांग पत्र पेश
इससे नाराज चिकित्साकर्मियों ने चार दिन से चल रहे आंदोलन को वापस लेने के एवज में मुख्यमंत्री के समक्ष छह सूत्रीय मांग पत्र पेश कर डाक्टरों पर हुये हमले की मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा निंदा करने की शर्त रखी है.