तिरुवनंतपुरम (केरल): केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने मंगलवार को कोरोना वायरस से संक्रमित छह और मामलों की पुष्टि की है. राज्य में अब तक COVID​​-19 से प्रभावित लोगों की कुल संख्या 12 हो गई है. पिनारई ने राज्य में मंत्रिमंडल की विशेष बैठक के बाद सभी आधिकारिक सार्वजनिक समारोह पर प्रतिबंध लगा दिया है और राज्य भर में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए लोगों से अपील किया कि लोग सार्वजनिक समारोहों में जाने से बचें. Also Read - कोरोना से अब तक 111 लोगों की मौत, भारत में 4281 हुई संक्रमितों की संख्या; राज्यों ने दिए लॉकडाउन बढ़ाने के संकेत

मुख्यमंत्री के जारी निर्देश के बाद राज्य के स्कूलों में कक्षा 7 तक के छात्रों के लिए कक्षाएं और परीक्षाएं दोनों रद्द कर दी गई है. 31 मार्च तक सभी वेकेशन्स क्लासेज, ट्यूशन कक्षाओं, आंगनवाड़ियों और मदरसों को भी बंद कर दिया गया है. हालांकि, कक्षा 8 वीं, 9 वीं और 10 वीं कक्षा के लिए परीक्षाएं शेड्यूल के अनुसार जारी रहेंगी. उन्होंने ने कहा कि COVID-19 से प्रभावित16 देशों की यात्रा से लौटने के बाद सभी लोगों को स्वास्थ्य अधिकारियों को रिपोर्ट करना होगा. हवाई अड्डों पर स्क्रीनिंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि यदि कोई भी व्यक्ति अपने यात्रा विवरण को छिपाने की कोशिश करता है तो उन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी. विजयन ने कहा कि पूरे राज्य में निगरानी प्रणाली को मजबूत किया जाएगा. Also Read - कोरोना वायरस से हुई मां की मौत तो बेटे ने शव लेने से किया इनकार, जिला प्रशासन को करना पड़ा अंतिम संस्कार

मुख्यमंत्री ने कहा कि नमूना परीक्षण प्रयोगशालाओं की संख्या भी बढ़ाई जाएगी. उन्होंने कहा कि अफवाहें फैलाने और फर्जी खबर फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. यात्रा के लिए केरल हवाईअड्डों के अंदर और बाहर उड़ान भरने वालों के लिए एयरलाइंस द्वारा यात्री की उपस्थिति दर्ज की जाएगी. सैनटाइजर्स और मास्क की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी. मुख्यमंत्री ने लोगों से सिनेमाघरों, मंदिरों, मस्जिदों, चर्चों में जाने और भीड़भाड़ वाले त्योहारों से बचने के लिए आग्रह भी किया. उन्होंने लोगों से सबरीमाला मंदिर के दर्शन से दूर रहने का भी आग्रह किया लेकिन मंदिर में सामान्य पूजा-पाठ होंगे. आधिकारिक अनुमानों के अनुसार सोमवार तक पूरे देश में कोरोना वायरस के टेस्ट में 45 लोगों में यह संक्रमण पाया गया था. Also Read - कांग्रेस ने सांसदों के वेतन में कटौती का स्वागत किया, सांसद निधि बहाल करने की मांग