मुजफ्फरपुर: बिहार से अक्सर परीक्षा में नकल की खबर देखने और सुनने को मिलती रहती है. हर बार सरकार कहती है कि अगली बार से परीक्षा में नकल रोकने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे. बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में एक अधिकारी ने नकल रोकने की बात को कुछ ज्यादा ही गंभीरता से ले लिया और चौंकाने वाला काम कर दिया. मुजफ्फरपुर में परीक्षा से पहले उस समय एक चौंकाने वाली घटना हुई जब प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने के लिए परीक्षा केंद्र पहुंची लड़कियों के नकल पर रोक लगाने के उद्देश्य से उनकी समीज के आस्तीन को कैंची और ब्लेड से काटकर आधा कर दिया गया. Also Read - बिहार: शराब तस्करों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर तलवार से हमला, DSP समेत 7 घायल

मुजफ्फरपुर के जिला शिक्षा पदाधिकारी ललन प्रसाद सिंह ने बताया कि यह मामला शनिवार को एक निजी स्कूल में संचालित पैरा मेडिकल की प्रवेश परीक्षा से जुडा है जिसकी जांच की जा रही है.उन्होंने बताया कि उस स्कूल को ब्लैकलिस्ट किया गया है. इससे अब उस स्कूल में कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जा सकेगी. स्कूल के परीक्षा अधीक्षक को आजीवन इस कार्य के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है.