लखनऊ: केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने शनिवार को कहा कि यदि राष्ट्र की बागडोर काबिल हाथों में हो तो संघर्ष सफलता में बदलता है और देश की कमान जनता के आशीर्वाद व कार्यकर्ताओं के प्रयास से राष्ट्र नायक नरेंद्र मोदी के हाथ में है. ईरानी ने कहा कि जनता से संवाद ही भाजपा की थाती है और यह इसलिए संभव हो सका क्योंकि प्रधानमंत्री ने डिजिटल इंडिया का आह्वान किया. Also Read - IPL 2020 का दूसरे देश में होना लगभग तय, BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली के इस बयान से हुआ साफ

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने आयुष्मान भारत से 10 करोड़ परिवारों को चिकित्सा सहायता का संकल्प लिया. यह अकल्पनीय था, लेकिन एक साल के भीतर देश में एक करोड़ से अधिक परिवारों और उत्तर प्रदेश में 18 लाख परिवारों को लाभ मिला है. Also Read - Coronavirus In India Update: देश में संक्रमितों की संख्या 7 लाख के पार, कुल 20 हजार से अधिक लोगों की मौत

भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास व कपड़ा मंत्री ईरानी ने शनिवार को मध्याचंल की डिजिटल जनसंवाद रैली को सम्बोधित किया. पार्टी ने बताया कि रैली में अवध व कानपुर, बुन्देलखण्ड क्षेत्र के लाखों लोगों सहित पार्टी के बूथ स्तर तक के कार्यकर्ता शामिल हुए . उन्होंने इस दौरान कांग्रेस और उसकी अध्यक्ष सोनिया गांधी पर भी जमकर निशाना साधा. Also Read - कोविड-19 महामारी के बीच भारतीय फुटबॉलर की पत्नी कर रही हैं वो काम जिसे दुनिया कर रही सलाम!

अपनी डिजिटल रैली में केंद्रीय मंत्री ने भारत चीन विवाद को लेकर कांग्रेस की तरफ से उठाए जा रहे सवालों को लेकर पर हमला बोलते हुए राजीव गांधी फाउंडेशन द्वारा लिए गए चंदे पर भी सवाल किया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सिर्फ 70 साल देश को लूटा है और विकास के नाम पर एक भी काम नहीं किया.

स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर जोरदार प्रहार करते हुए कहा कि जिनकी नियत केवल देश को लूटने की हो वो पीएम मोदी को क्या समझेंगे. उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल में देश को विकास के मार्ग पर ले जाने वाल कठोर निर्णय लिए. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पीएम मोदी पूरे देश के विकास के बारे में सोचते हैं न कि एक परिवार के बारे में.