नई दिल्ली: देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बेलगाम झपटमारों और लुटेरों पर लगाम लगते हुए नहीं दिख रहा है. कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी का पर्स और मोबाइल दिल्‍ली में छीन लिया गया था. इसके बाद एक मेट्रोपोलिटन मजिस्‍ट्रेट को निशाना बनाया गया था और अब एयरफोर्स के एक सीनियर अधिकारी का मोबाइल लुटेरों ने छीन लिया है.

कनॉट प्लेस इलाके में वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारी से गुरुवार की सुबह दो लुटेरों ने मोबाइल छीन लिया ओर फरार हो गए. पुलिस ने बताया कि घटना सुबह करीब छह बजे की है. एयरफोर्स के अफसर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह कनॉट प्लेस इलाके में सुबह साइकिल चला रहे थे, तभी बाइक सवार दो व्यक्ति आए और उनका एक पाउच छीनकर ले गए जिसमें एक ‘वन प्लस 6’ मोबाइल फोन और 200 रुपए थे. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

मेट्रोपोलिटन मजिस्‍ट्रेट का मोबालइल छीन ले गए झपटमार
स्‍नैचर्स ने एक मेट्रोपोलिटन मजिस्‍ट्रेट को निशाना बनाया है. रविवार की रात बाइक सवार लुटेरों ने झपटमारी करते हुए मेट्रोपोलिटन मजिस्‍ट्रेट का मोबाइल फोन तब छीन लिया, जब वह आई हुई एक कॉल को रिसीव कर रहे थे. रात को मेट्रोपोलिटन मजिस्‍ट्रेट अपनी फैमिली के साथ कमलानगर में एक रेस्‍त्रां में डिनर के लिए गए थे. जब वह बाहर फोन पर आई हुई कॉल को रिसीव कर रहे थे, तभी अचानक आए हुए बाइक सवारों ने उनके हाथ से मोबाइल फोन छीनकर रफूचक्‍कर हो गए.

गवर्नर भवन व सीएम हाउस के पास हुई थी पीएम मोदी की भतीजी से लुट
प्रधानमंत्री के भाई प्रह्लाद मोदी की बेटी दमयंती बेन मोदी शनिवार सुबह जब ऑटो रिक्शा से उतर रही थीं, तभी दो लोगों ने उनका पर्स और दो मोबाइल फोन उनके हाथ से छीन लिया. उनके पर्स में 56,000 रुपए नकद थे. यह घटना उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास से कुछ किलोमीटर दूर हुई थी.

पुलिस ने पीएम की भतीजी से झपटमारों को पकड़ा
उत्तरी दिल्ली के सिविल लाइंस इलाके में गुजराती समाज भवन के सामने शनिवार सुबह सात बजे जब मोदी ऑटो से उतरीं तो स्कूटर पर सवार दो लोगों ने उनका पर्स छीन लिया. इसमें उनके दो फोन, नकदी, कुछ कागजात और अन्य सामान था. वह अमृतसर से दिल्ली आई थीं और शाम में उनकी अहमदाबाद की उड़ान थी. पुलिस ने बताया कि शिकायत के आधार पर पुलिस ने दो अज्ञात झपटमारों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. बाद में दोनों झपटमारों की पहचान कर ली गई थी. दमयंती बेन मोदी से झपटमारी करने के मामले में पुलिस ने दो व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया है.

सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से लुटेरों की हुई थी पहचान
सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से दोनों की पहचान की गई थी. इलाके की सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद दो युवक अपराध को अंजाम देने के बाद सुल्तानपुरी जा रहे थे.फुटेज में वे हेलमेट पहने नहीं दिखे थे. आम तौर पर इलाके में ड्यूटी करने वाले ट्रैफिक पुलिसकर्मी भी नहीं थे. इसलिए व्यक्ति बिना हेलमेट के घटनास्थल से सदर बाजार चले गए और बाद में छुप गए.

56,000 रुपए, कलाई की घड़ी, दस्तावेज बरामद
उत्तर दिल्ली पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज ने बताया कि 21 साल के गौरव उर्फ नानू को सोनीपत से उसके एक रिश्तेदार के घर से गिरफ्तार किया गया है, जबकि बादल (22) को शाम में सुल्तानपुरी से बंदी बनाया गया है. गौरव दिल्ली के सदर बाजार का रहने वाला है, लेकिन कभी-कभी यहां नबी करीम में रहता था. 56,000 रुपए, कलाई की घड़ी, दस्तावेज बरामद कर लिए गए हैं. गौरव की रिश्तेदार के घर से स्कूटर को भी जब्त कर लिया गया है. वह घटना के बाद उनके यहां चला गया था.

पीएम की भतीजी का एक किलोमीटर तक किया था पीछा
पूछताछ में गौरव ने पुलिस को बताया कि झपटमारी करने से पहले उन्होंने दमयंती बेन को ऑटो-रिक्शा में देखा था और उनका करीब एक किलोमीटर तक पीछा किया था. गौरव के खिलाफ झगड़े का एक मामला है. गौरव घुमक्कड़ है. वह शादीशुदा है और तीन साल का उसका बेटा है. उसके पिता की मौत के बाद उसकी मां ने दूसरी शादी कर ली थी. उसके चार भाई-बहन हैं, लेकिन उसके स्वभाव की वजह से उससे कोई वास्ता नहीं रखता है.