शिमला: लंबे इंतजार के बाद, मंगलवार को हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बर्फबारी हुई. यह जाड़े के मौजूदा मौसम की पहली बर्फबारी है. शिमला और ऊपरी इलाकों में मंगलवार दोपहर बाद से बारिश और बर्फबारी जारी है. बर्फबारी ने मैदानी इलाके में ठंड बढ़ा दी है. Also Read - Cyclone Nivar: चक्रवाती तूफान ‘निवार’ हो रहा विकराल, 130-140 KM/ घंटे तेज चलेंगी हवाएं, तमिलनाडु में छुट्टी घोष‍ित

Also Read - Mumbai Rain: मुंबई में बारिश से बढ़ी मुसीबतें, पानी से भरी लिफ्ट में फंसकर दो चौकीदारों की मौत

बर्फ से ढकी पहाड़ियों का नजारा देखने के लिए पर्यटकों का हुजूम उमड़ पड़ा है. शिमला के पास के पर्यटन स्थल कुफरी और नरकंडा में भी बर्फबारी हुई है. Also Read - Kundali Bhagya spoiler alert: करण और प्रीता बारिश में कर देंगे सारी हदें पार, होगा जबरदस्त रोमांस

शिमला में दो से तीन इंच जबकि कुफरी, चायल और नारकंडा में 7-8 इंच तक बर्फबारी की सूचना है. इस कारण शिमला सिटी से लेकर बाहरी इलाकों में यातायात प्रभावित हो गया.

शिमला में न्यूनतम तापमान 2.7 डिग्री और अधिकतम 12.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. यहां हल्की बर्फबारी हुई. कुफरी और मशोबरा में शिमला की तुलना में अधिक बर्फ पड़ी.

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि शिमला की पहाड़ियों पर बर्फ एक-दो दिन टिकेगी.

उत्तराखंड में भी भारी बर्फबारी से पहाड़ ढक गए हैं. उत्तराखंड के गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में कई जगहों पर जमकर बर्फबारी हुई. मौसम के बदले मिजाज के चलते प्रशासन ने बुधवार को स्कूलों में छुट्टी घोषित की है.

ऊंची पहाड़ियों और धामों के अलावा बर्फबारी के लिए मशहूर पर्यटक स्थल धनोल्टी में भी बर्फबारी शुरू हो चुकी है. गौरतलब है कि इस मौसम की पहली बर्फबारी धनोल्टी में हुई है.

कश्मीर घाटी और लद्दाख क्षेत्र मंगलवार को शीतलहर की चपेट में रहा. इसके बाद यहां भी भारी बर्फबारी हुई.