नई दिल्ली: अगर आप टैक्स को लेकर चिंतित हैं और योजनाओं में निवेश कर अच्छा रिटर्न पाना चाहते हैं तो, आपको हम कुछ विकल्प बताने जा रहे हैं. इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम (ईएलएलएस): अगर आप कम लॉक्ड इन पीरियड में टैंक फंड से अच्छा रिटर्न हासिल करना चाहते हैं तो इक्विटी लिंक्ड सेविंग्स स्कीम (ईएलएलएस) में पैसा लगा सकते हैं.

ईएलएलएस

यह एक तरह का म्यूचुअल फंड होता है. इसका लॉक्ड इन पीरियड 3 साल होता है, यानी इस समय के पूरा होते ही आप पैसा निकाल सकते हैं. इसमें मिलने वाला रिटर्न टैक्स फ्री होता है. ईएलएसएस में पिछले तीन वर्षों में 13.62 फीसदी तक रिटर्न दिया. 2017 इक्विटी में निवेश के लिए बेहरीत रहा और निवेशक नए साल में भी अच्छे परिणामों की उम्मीद जता रहे हैं.

पीपीएफ

पीपीएफ भी इन्वेस्टमेंट के हिसाब से एक अच्छा ऑप्शन है. इसमें साल बीतने के साथ ही ब्याज दरों में कटौती देखी जा रही है. जनवरी-मार्च 2018 के लिए ब्याज दर 7.6 फीसदी तय की गई है. यह विकल्प भी टैक्स फ्री रिटर्न देता है.

सीनियर सिटीजन बचत योजना
टैक्स फ्री रिटर्न के लिए आप सीनियर सिटीजन बचत योजना में भी निवेश कर सकते हैं. लेकिन ध्यान रहे यह विकल्प बुजुर्गों के लिए है. अगर आप 60 या इससे ज्यादा की उम्र हैं तो ही इसमें निवेश कर सकते हैं.

 सुकन्या समृद्धि योजना

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करके आप टैक्स फ्री रिटर्न पा सकते हैं. पीपीएफ के मुकाबले इसमें ब्याज दर 8.1 फीसदी है. इसमें एक साल में कम से कम एक हजार और अधिकतम डेढ़ लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं. लेकिन इसके लिए आपकी बेटी की उम्र 10 वर्ष से कम होना जरूरी है.

यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान (यूलिप)

इसे ज्यादातर निवेशक महंगा मानते हैं, लेकिन अब कुछ इंश्योरेंस कंपनियों ने कम कीमतों पर इसे लॉन्च किया है, जिससे बेहतर रिटर्न मिलने की उम्मीद है. यूलिप से पिछले 5 वर्षों निवेशकों ने 9.9-11.9 फीसदी की दर से टैक्स फ्री रिटर्न का लाभ उठाया है.