मुंबई: अभिनेता-नेता शत्रुघ्न सिन्हा की बेटी एवं अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा ने शुक्रवार को कहा कि उनके पिता को काफी पहले ही भाजपा से ‘अलग’ हो जाना चाहिए था क्योंकि उन्हें वह सम्मान नहीं दिया गया जिसके वह हकदार थे. बता दें कि कुछ ही दिन पहले शत्रुघ्न सिन्हा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी और उनके कांग्रेस में शामिल होने की संभावना है.

 

सोनाक्षी ने कहा कि कांग्रेस में शामिल होना उनका अपना फैसला है और उनका भरोसा है कि उनके पिता पार्टी के साथ मिलकर अच्छा काम करेंगे. उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि यह उनका चयन है. अगर आप किसी चीज से जुड़े हैं और वहां घट रही चीजों से आप खुश नहीं हैं तो आपको निश्चित रूप से उसे बदल देना चाहिए, जो उन्होंने किया. मुझे उम्मीद है कि अब कांग्रेस के साथ जुड़कर वह बहुत अच्छा काम कर पायेंगे और खुद को दबा हुआ महसूस नहीं करेंगे.’’

योगी सरकार के मंत्री का हमला, ‘जिसके माता-पिता की शादी चर्च में हुई हो, वह हिन्‍दू कैसे?’

सम्‍मान के हकदार नेताओं को नहीं मिला सम्‍मान
अभिनेत्री ने कहा कि अब समय आ गया था कि उनके पिता भाजपा छोड़ दें. उन्होंने कहा कि एक वरिष्ठ नेता होने, अनुभवी होने, जयप्रकाश नारायण, अटल जी, एल के आडवाणी जी के जमाने से काम करने और शुरुआत से पार्टी का सदस्य होने के कारण मेरे पिता का पार्टी में काफी सम्मान था. अभिनेत्री ने यहां ‘एचटी मोस्ट स्टाइलिश अवार्ड्स’ से इतर कहा कि मुझे लगता है कि इन नेताओं को, इस पूरे समूह को वह सम्मान नहीं दिया गया, जिसके वे हकदार थे. मुझे लगता है कि अब आगे बढ़ने का समय है.

अमित शाह ने सरदार वल्लभ भाई पटेल को दी श्रद्धांजलि, इन नेताओं की मौजूदगी में करेंगे रोड शो