Sonam Wangchuk:  समाजसेवी सोनम वांगचुक ने लद्दाख की हाड़ कंपाने वाली ठंड में ड्यूटी पर तैनात जवानों के लिए ऐसा टेंट बनाया है जो अनोखा है. गलवान घाटी के सैनिकों के लिए सोनम वांगचुक के बनाए इस टेंट के भीतर हमेशा 15 से 20 डिग्री सेल्सियस तक तापमान रहेगा, भले ही बाहर -20 डिग्री सेल्सियस वाली ठंड क्यों न हो.Also Read - करीना कपूर के लिए Aamir Khan ने पसंद की थी ये खास साड़ी, चुकाई थी इतनी गुना ज्यादा कीमत

बता दें कि 12 हजार फीट से ज्यादा ऊंचाई पर मौजूद गलवान वैली वही जगह है, जहां पिछले साल जून में चीन और भारत के जवानों के बीच हिंसक झड़प हुई थी. गलवान वैली लद्दाख का वो हिस्सा है जहां सर्दियों में पारा खून जमाने के स्तर तक गिर जाता है, लेकिन देश की सुरक्षा के लिए इस विपरीत ​परिस्थिति में भी भारतीय सेना के जवान वहां भी सरहद की सुरक्षा के लिए दिन-रात वहां तैनात रहते हैं. Also Read - आमिर खान ने जूही चावला के साथ किया था बुरा बर्ताव, इमरान खान ने किया प्रपोज, एक्ट्रेस ने किया खुलासा

सेना के जवानों को इस विपरीत परिस्थिति में काम के प्रति समर्पण देख सोनम वांगचुक ने एक खास तरह का मिलिट्री टेंट तैयार किया है. उनके इस आविष्कार को देखकर बिजनेस मैन आनंद महिंद्रा ने अपने ट्वीट में लिखा है कि सोनम तुम गजब आदमी हो! आपको सलाम। आपका काम ऊर्जावान कर रहा है. Also Read - Viral Video: गाड़ी बनाते-बनाते मैकेनिक ने सुरीली आवाज में गाया मोहम्मद रफी का गाना, आप भी कहेंगे ये रियल टैलेंट है- देखें वीडियो

जी हां ये वही सोनम वांगचुक हैं, जिनसे प्रेरणा लेकर थ्री ईडियट्स फिल्‍म बनी है और इस फिल्म में आमिर खान का किरदार फुंशुक वांगडू, जिसे उसके दोस्त प्यार से रैंचो बुलाते हैं, लद्दाख के इसी सोनम वांगचुक पर आधारित है.

सोनम वांगचुक अपने अनोखे इनोवेशन के लिए जाने जाते हैं. उन्होंने इसबार एक ऐसी ही तरकीब निकाली है जिससे सरहद की सुरक्षा में तैनात सेना के जवानों को भीषण ठंड से राहत मिल सकेगी. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर अपने इस नए आविष्कार की कुछ तस्वीरें शेयर की है. इसमें वह एक खास किस्म के मिलिट्री टेंट के बारे में बता रहे हैं, जो माइनस तापमान में भी अंदर से गर्म रहता है. सोनम ने इसे ‘सोलर हीटेड मिलिट्री टेंट’ नाम दिया है.

ये है मिलिट्री टेंट की खासियत, बाहर ठंड अंदर का तामपान गर्म

सोनम ने ट्वीट करते हुए बताया कि रात के 10 बजे जहां बाहर का तापमान -14°C था, टेंट के भीतर का तापमान +15°C था, यानी टेंट के बाहर के तापमान से टेंट के भीतर का तापमान 29°C ज्यादा था. इस टेंट के अंदर भारतीय सेना के जवानों को लद्दाख की सर्द रातें गुजारने में काफी आसानी होगी. इस सोलर हीटेड मिलिट्री टेंट की खासियत यह है कि यह सौर ऊर्जा की मदद से काम करता है.