नई दिल्ली: कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (SONIA GANDHI) ने बांग्लादेश मुक्ति संग्राम की 50वीं वर्षगांठ पर होने वाले समारोह में भाग लेने के लिए बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना (SHEIKH HASINA) द्वारा उनके देश आने के दिए गए निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है. शेख हसीना ने रविवार को उनके अलावा कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को भी इस समारोह के लिए निमंत्रण दिया. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी और राज्यसभा सांसद आनंद शर्मा के प्रतिनिधिमंडल ने रविवार को बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से मुलाकात की. हसीना ने इससे पहले शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी.

मंगोलिया के दौरे पर जाएंगे धर्मेद्र प्रधान, खनन व अन्य क्षेत्र पर होगी बातचीत

बयान के अनुसार, सोनिया गांधी ने ‘दोनों परिवारों के बीच दोस्ती के बंधन को देखते हुए’ हसीना से मुलाकात की. बयान के अनुसार, अपनी बैठक में हसीना ने बांग्लादेश मुक्ति संग्राम में भारत के समर्थन पर का आभार जताया और उनके पिता व बंगबंधु शेख मुजीबुर्रहमान और इंदिरा गांधी के बीच दोस्ती के विशेष बंधन को याद किया.

सोनिया गांधी ने शेख हसीना को लगातार तीसरी बार बांग्लादेश की प्रधानमंत्री बनने के लिए बधाई दी और कहा कि बांग्लदेश की जनता उनके नेतृत्व और विजन में विश्वास करती है. मनमोहन सिंह ने देश द्वारा प्राप्त शानदार आर्थिक वृद्धि और स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन की प्रशंसा की.