नई दिल्ली: कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखकर गरीबों और जरूरतमंदों को मुफ्त अनाज वितरण अवधि तीन महीने बढ़ाकर सितंबर तक करने की मांग की है. सोनिया ने कहा है कि चूंकि तीन महीने पहले लॉकडाउन की घोषणा की गई थी, लिहाजा लाखों की संख्या में लोग गरीबी में पहुंचने के कगार पर हैं और प्रतिकूल असर ने खाद्य असुरक्षा की स्थिति पैदा कर दी है.Also Read - Corona Vaccine New Guidelines: कृपया ध्यान दें-कोरोना से संक्रमित हैं तो कब लगवाएं वैक्सीन, जानिए नई गाइडलाइंस

सोनिया गांधी ने पत्र में कहा है, “केंद्र सरकार को मुफ्त अनाज वितरण के प्रावधान को अतिरिक्त तीन महीने बढ़ाकर सितंबर 2020 तक करने पर हर हाल में विचार करना चाहिए, जैसा कि कई राज्यों ने भी अनुरोध किया है.” कांग्रेस अध्यक्ष ने यह मांग भी की कि अस्थायी राशन कार्ड उपलब्ध कराए जाने चाहिए, क्योंकि कई गरीब परिवार पीडीएस से बाहर हैं. Also Read - कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच यहां लगाया गया Lockdown, जानें किन चीजों पर पाबंदी

उन्होंने कहा कि सरकार के पास अंत्योदय योजना और राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत जून तक प्रति व्यक्ति पांच किलोग्राम अनाज देने का प्रावधान पहले से है, और सरकार ने इस सुविधा को उन प्रवासियों को भी दिया है, जो पीडीएस में शामिल नहीं हैं. कांग्रेस नेता ने कहा कि महामारी और लॉकडाउन के कारण शहरी और गरीब भारतीय भूखमरी का सामना कर रहे हैं और इसलिए भोजन हकदारी योजना बढ़ाई जानी चाहिए. Also Read - Corona Virus: इस पूरे राज्य में लॉकडाउन लगाया जाएगा, सीएम ने किया ऐलान