नई दिल्ली: कांग्रेस की कार्यकारी अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने स्‍वर्गीय पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को उनकी समाधि शक्‍तिस्‍थल पर श्रद्धांजलि अर्पित की. बता देंं क‍ि 31 अक्टूबर 1984 को पद पर रहते हुए ही उनकी हत्या कर दी गई थी. Also Read - WB Assembly elections 2021: कांग्रेस पार्टी को बंगाल में बड़ा झटका, उम्मीदवार रेजाउल हक की कोरोना से मौत

कांग्रेस ने अपने टि्वटर हैंडल पर लिखा है कि भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के अतुलनीय त्‍याग और बलिदान का सम्‍मान करते हैं. एक प्रधानमंत्री के रूप में श्रीमती गांधी ने हमारे देश की राष्‍ट्रीय सुरक्षा, अर्थव्‍यवस्‍था, लोकतंत्र और विदेश नीति में बड़ा योगदान दिया. उन्‍हें हमेशा सारे भारतीयों को अपना प्रेम देने के लिए जाना जाएगा. Also Read - Covid deaths Spike in Delhi: दिल्‍ली के बड़े कब्रिस्‍तान में शवों को दफनाने के लिए जगह की कमी चल रही

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर गुरुवार को पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, अंसारी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भी उनकी समाधि ‘शक्ति स्थल’ पहुंचकर उन्हें श्रद्धा-सुमन अर्पित किए.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी दादी को याद करते हुए ट्वीट किया, ‘आज मेरी दादी इंदिरा गांधी जी का बलिदान दिवस है। आप के फौलादी इरादे और निडर फैसलों की सीख हर कदम पर मेरा मार्गदर्शन करती रहेगी. आपको मेरा शत् शत् नमन.’

बता दें फौलादी इरादों और निडर फैसले लेने वाली देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 31 अक्टूबर की सुबह उनके सिख अंगरक्षकों ने हत्या कर दी थी. इंदिरा गांधी ने 1966 से 1977 के बीच लगातार तीन बार देश की बागडोर संभाली और उसके बाद 1980 में दोबारा इस पद पर पहुंचीं और 31 अक्टूबर 1984 को पद पर रहते हुए ही उनकी हत्या कर दी गई थी.