नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी विदेश में चिकित्सा जांच के बाद मंगलवार सुबह स्वदेश लौट आईं. सूत्रों के मुताबिक, पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी वापस आ गए हैं, जो अपनी मां के साथ गए थे. सोनिया गांधी चिकित्सा जांच के लिए 12 सितंबर को विदेश गईं थीं.Also Read - Uttarakhand Polls: कांग्रेस ने उम्‍मीदवारों की दूसरी लिस्‍ट जारी की, हरीश रावत, हर‍क सिंह रावत की बहू को भी टिकट

विदेश में होने के कारण सोनिया गांधी और राहुल गांधी संसद के मौजूदा मॉनसून सत्र में शामिल नहीं हो सके. Also Read - उद्धव ठाकरे बोले- शिवसेना ने BJP के साथ रहकर 25 साल बर्बाद कर दिए, ये मैं अब भी मानता हूं

बता दें कि मंगलवार को कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर नए कृषि विधेयकों के माध्यम से किसानों को जड़ से खत्म करने का प्रयास करने का आरोप लगाया और कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को लेकर उसकी मांग माने जाने तक संसद की कार्यवाही का बहिष्कार जारी रहेगा. Also Read - UP Election: टिकट के लिए पति-पत्नी, बाप-बेटी तो कहीं भाई-भाई में टकराव, अमेठी राजघराने की दो रानियों में जंग

पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कृषि संबंधी विधेयकों को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि किसानों को जड़ से साफ करके कुछ पूंजीपतियों का विकास करने का प्रयास हो रहा है. उन्होंने ट्वीट किया कि 2014 में मोदी जी का चुनावी वादा किसानों को स्वामीनाथन आयोग वाला एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) दिलाने का था. साल 2015 में मोदी सरकार ने अदालत में कहा कि उनसे ये न हो पाएगा. 2020 में ‘काले क़ानून’ लाए गए.

कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, ‘‘ मोदी जी की नीयत ‘साफ़’, कृषि-विरोधी नया प्रयास, किसानों को करके जड़ से साफ़, पूंजीपति ‘मित्रों’ का ख़ूब विकास.’’