नई दिल्ली: लखनऊ से प्रयागराज जाने से रोके जाने पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बीजेपी के खिलाफ आक्रामक हैं. बीजेपी को हराने के लिए अखिलेश बसपा के साथ गठबंधन कर चुके हैं. वहीं, लोकसभा में समापन सत्र के दौरान अखिलेश के पिता व सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर बड़ा बयान दिया है. मुलायम ने लोकसभा में वो बात कह दी जो उनके बेटे अखिलेश बिल्कुल नहीं चाहते हैं. Also Read - मनोज तिवारी के हेलीकॉप्टर में आई तकनीकी खराबी, पटना में हुई इमरजेंसी लैंडिंग

Also Read - सपा को 'सबक' सिखाने के लिए भाजपा के साथ चलेगी बसपा, जानिए मायावती ने क्यों किया इतना बड़ा ऐलान

यूं घूमा समय का पहिया: 5 साल पहले योगी को रोकने वाले अखिलेश आज खुद रोके गए Also Read - केशुभाई के निधन पर पीएम मोदी ने जताया शोक, कहा- मेरे मेंटर चले गए, वो उत्कृष्ट नेता थे

मुलायम सिंह यादव ने जमकर तारीफ करते हुए कहा कि वह चाहते हैं कि नरेंद्र मोदी एक बार फिर पीएम बनें. उनकी इस बात पर पीएम मोदी भी मुस्कुराते नजर आए. वहीं, बीजेपी के अन्य संसद सदस्यों ने तालियां बजाईं. इस दौरान सोनिया गांधी भी मुस्कुराती हुई दिखीं.

 

अखिलेश को रोकने पर बवाल: प्रदर्शन कर रहे सपाइयों पर लाठीचार्ज, सांसद धर्मेंद्र यादव का सिर फूटा

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आज लोकसभा के समापन सत्र चल रहा है. मुलायम सिंह यादव सोनिया गांधी के बगल में थे. मुलायम ने समापन सत्र में बोलते हुए कहा कि ‘पीएम मोदी ने हमेशा मेरी मदद की है. मुलायम ने कहा कि पीएम मोदी को बधाई देना चाहता हूं कि उन्होंने सबको साथ लेकर चलने की कोशिश की है. मैं कहना चाहता हूं कि सारे सदस्य फिर से जीत कर आएं और आप दोबारा प्रधानमंत्री बनें.

बता दें कि एक दिन पहले ही सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को प्रयागराज रोके जाने के बाद सपा बीजेपी पर निशाना साध रही है. प्रयागराज में इस मामले को लेकर प्रदर्शन कर रहे मुलायम के भतीजे सपा सांसद धर्मेंद्र यादव पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. इससे उनका सिर फूट गया. कई सपा कार्यकर्ता घायल हो गए. इसके बाद अखिलेश ने बीजेपी की केंद्र व राज्य सरकार को तानाशाह करार दिया. मायावती, उधर ममता बनर्जी तक अखिलेश के समर्थन में आ गईं. वहीं, अखिलेश के पिता मुलायम ने मोदी को फिर से पीएम बनाए जाने की बात कहकर सपा व गठबंधन के लिए कहीं न कहीं असहज स्थिति तो पैदा कर ही दी है.